चंडीगढ़, 23 मई (भाषा) पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने रविवार को किसानों के संगठन भारतीय किसान यूनियन (एकता उगराहां) से कोविड-19 से राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन नहीं करने का आग्रह करते हुए कहा कि ऐसा करने से कोरोना वायरस का संक्रमण काफी तेजी से फैल सकता है।

किसानों के संगठन ने राज्य सरकार पर कोविड-19 की स्थिति से निपटने में असफल रहने का आरोप लगाते हुए घोषणा की थी कि वे 28 मई को पटियाला में विरोध प्रदर्शन करेंगे।

अपनी सरकार के खिलाफ लगे आरोपों को खारिज करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब में कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए उनकी सरकार ने कड़े प्रयास किए हैं और दिल्ली, महाराष्ट्र तथा उत्तर प्रदेश जैसी स्थिति पैदा होने से बचाया है।

एक बयान के अनुसार, सिंह ने किसानों से विरोध प्रदर्शन नहीं करने का आग्रह करते हुए कहा कि ऐसा कर वे खुद के जीवन को ही संकट में डाल रहे हैं। इससे महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई कमजोर पड़ सकती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि धरना प्रदर्शन में शामिल होने के लिए बड‍़ी संख्या में ग्रामीण इलाकों से लोग आएंगे, ऐसी स्थिति में पहले से दूसरी लहर की मार झेल रहे ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को परेशानी हो सकती है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को लेकर किसानों के प्रति पहले ही एकजुटता प्रकट कर चुकी है।

किसानों को भी राज्य सरकार का समर्थन कर कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में उसका साथ देना चाहिए।

भाषा रवि कांत दिलीप

दिलीप