महाराष्ट्र के रहने वाले चंद्रकांत तरे पेशे से एक मछुआरे हैं. ये कहावत आप में से काफी लोगों ने सुनी होगी कि “ऊपर वाला जब भी देता है देता छप्पर फाड़ के”. ये कहावत चंद्रकांत पर बिल्कुल सूट करती नजर आ रही है. चंद मछलियों को पकड़कर चंद्रकांता रातों रात ही करोड़पति बन गए हैं. राजधानी मुम्बई से सटे जिले पालघर के इस मछुआरे की ऐसी लॉटरी लगी है जिस बारे उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा. सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रही है, जिसमें मछुआरा मछली बेचकर रातोंरात करोड़पति बन गया है.

यह भी पढ़ें: सारा अली खान ने किया अमिताभ-रेखा के रोमांटिक गाने पर डांस, देखें शानदार वीडियो

अब हुआ ये कि मानसून में मछली पकड़ने पर प्रतिबंध हटने के बाद पालघर जिले के मुरबे गांव के रहने वाले मछुआरे, चंद्रकांत तरे की नाव समुद्र में काफी समय बाद मछली पकड़ने गई थी. 28 अगस्त को जब समुद्र में फेंके गए जाल में कुछ मछलियों के फंसने का अंदाजा हुआ तो उसने फंदा ऊपर खींच लिया. नाव पर सवार सभी लोग तब अचंभित हो गए, जब जाल में 150 के करीब घोल मछलियां थी. इतनी बड़ी संख्या में घोल मछलियां देख सभी खुशी से उछलने लगे और एक वीडियो भी शूट कर लिया. फिर किनारे पहुंचते ही वह करोड़पति बन गए. समाचार वेबसाइट NDTV के अनुसार जब मछली की बोली लगाई गई तो बोली 1 करोड़ 33 लाख तक पहुंच गई. जिसके बाद एक आम मछुआरे कुछ ही पलों में करोड़पति बन गया.  

यह भी पढ़ें: बिग बॉस 15 में जंगल पार करके मिलेगी कंटेस्टेंट्स को एंट्री, सलमान खान ने शेयर किया वीडियो

देखें वायरल वीडियो-

आखिर इन मछलियों में इतना क्या खास है?

दरअसल, इन मछलियों के इतना महंगा होने का भी एक कारण है. घोल मछली में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं. इन मछलियों का इस्तेमाल दवाई बनाने के लिए होता है. इसलिए एक मछली की कीमत कई हजारों तक होती है. और यही वो कारण है कि इस मछली को 'सोने के दिल' वाली मछली भी कहते हैं. चंद्रकांता के बेटे सोमनाथ ने NDTV को बताया कि अभी ये सौदा तय नहीं हुआ है. सोमनाथ के अनुसार घोल मछली के पेट में एक थैली होती है जिसकी बाजार में मांग काफी अधिक है.  

यह भी पढ़ें:  ENG v IND: विराट, पुजारा, रहाणे के इस आंकड़े को मत देख लेना, डर जाओगे