नयी दिल्ली, 28 अप्रैल (भाषा) दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के पूर्व प्राध्यापक एवं मानवाधिकार कार्यकर्ता एन के भट्टाचार्य का निधन हो गया। एक बयान में यह जानकारी दी गई।

यहां के एक नागरिक फोरम ‘जन हस्तक्षेप’ ने बताया कि वह संगठन के समन्वयक थे।

‘जन हस्तक्षेप’ द्वारा जारी बयान में कहा गया, “हमने एक महान मानवाधिकार कार्यकर्ता और एक बेहतरीन इंसान खो दिया।”

‘इंडियन फेडरेशन ऑफ ट्रेड यूनियन्स’ (इफ्टू) ने भट्टाचार्य को श्रद्धांजलि दी और उन्हें मानवाधिकार के योद्धा के तौर पर याद किया।

इसने एक बयान में कहा कि भट्टाचार्य की सोमवार को यहां मौत हो गई और ऐसा पता चला है कि उनकी बेटी की तीन दिन पहले कोविड-19 से मौत हो गई थी।

जन हस्तक्षेप ने अपने बयान में कहा, “वह उम्र के इस पड़ाव पर अपनी बेटी के जाने का दुख बर्दाश्त नहीं कर पाए।”

भाषा

नेहा शाहिद

शाहिद