नेशनल बास्केटबॉल एसोसिएशन (NBA) के पूर्व स्टार माइकल जॉर्डन ने अमेरिका में सामाजिक न्याय के लिए काम करने वाले गैर-सरकारी संस्थाओं को 100 मिलियन डॉलर (755  करोड़ रुपये) दान दिया.  ये धनराशि सामाजिक न्याय क्षेत्र में काम कर रहे संगठनों को जॉर्डन और उनका ब्रांड अगले 10 सालों में मुहैया कराएगा.

बता दें कि अमेरिका में एक अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस के हाथों मौत के बाद विरोध प्रदर्शनों का सिलसिला शुरू हो गया है, जिसमें कई स्थानों पर हिंसक प्रदर्शन भी हुए. अमेरिका में अश्वेत लोगों को इस बात की शिकायत रही है कि उनके प्रति वहां की पुलिस और प्रशासन का रवैया न्यायपूर्ण नहीं है.

छह बार NBA चैंपियन रहे जॉर्डन और उनके ब्रांड ने बयान में कहा, "अश्वेत जिंदगी की भी कीमत है. यह भी मायने रखती है. यह विवादास्पद बयान नहीं है. जब तक हमारे देश में रंगभेद पूरी तरह से खत्म नहीं हो जाता. तब तक हम अश्वेतों की सुरक्षा और सामाजिक न्याय के लिए लड़ते रहेंगे."

जॉर्डन ने फ्लॉयड की हत्या पर दुख जताते हुए कहा था, "मैं इस घटना से दुखी और गुस्से में हूं. मेरी संवेदनाएं फ्लॉयड के परिवार के अलावा उन अनगिनत लोगों के साथ हैं, जिन्होंने नस्लीय बर्बरता और अन्याय की वजह से जान गंवाई. अब बहुत हो चुका, हमें इकठ्ठा होकर नस्लवाद के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए. ताकि हमारे नेताओं पर कानून बदलने का दबाव बने."

जॉर्डन ने शिकागो बुल्स टीम में रहते हुए छह बार NBA चैंपियनशिप जीता था. उनकी टीम शिकागो बुल्स 1991 से 1998 के बीच छह बार चैंपियन बनी थी. शिकागो की टीम न तो जॉर्डन से पहले और न ही जॉर्डन के बाद कभी चैंपियन बनी. जॉर्डन को हॉल ऑफ फेम में भी शामिल किया गया है. जॉर्डन अभी शर्लोट हॉरनेट्स टीम के मालिक हैं.