भारत में लगातार त्योहारों का माहौल बना रहता है. दिवाली हो या ईद या फिर गणेश चतुर्थी भारत में लोगों के पास सेलिब्रेट करने और खुश होने के मौकों की कोई कमी नहीं है. अब गणेश चतुर्थी की बात करें तो गणेश चतुर्थी इस साल 10 सितंबर से शुरू हो रही है. भगवान गणेश का ये महापर्व गणेश चतुर्थी भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को हर साल मनाया जाता है. बप्पा इस बार 10 सितंबर को विराजेंगे और 19 सितंबर को बप्पा को विदा किया जाएगा. आइए अब ऐसी कुछ चीजों के बारे में जानते हैं जिन्हें भूलकर भी हमें गणेश जी को अर्पित नहीं करना चाहिए.

यह भी पढ़ें: Ganesh Chaturthi 2021: कब से शुरू है गणेश चतुर्थी? जानें पूजा का शुभ मुहूर्त

सफेद जनेऊ और वस्त्र कभी अर्पित ना करें

गणेश जी को कभी भी सफेद वस्त्र अर्पित नहीं करना चाहिए. इसके साथ ही गणेश जी को सफेद जनेऊ चढ़ाने से भी बचना चाहिए. इसे अशुभ माना जाता है. जनेऊ को चढ़ाना अशुभ नहीं है लेकिन उस जनेऊ को उन्हें हल्दी में पीला करके गणेश जी को चढ़ाना चाहिए. इसे चढ़ाने से वे प्रसन्न हो जाते हैं.

टूटे चावल कभी न चढ़ाएं

इस बारे में तो सभी लोग जानते होंगे कि भगवान गणेश का एक दांत टूटा हुआ है इसलिए उनके लिए गीले चावल ग्रहण करना आसान होता है. इसी वजह से आप गणेशजी को चावल अर्पित करें तो ध्यान रखें कि वह टूटे हुए और सूखे न हों.

यह भी पढ़ें: Ganesh Chaturthi: बप्पा मोरया की मूर्ति स्थापित करने से पहले जान लें ये 6 नियम

पीले रंग के चंदन से ही लगाएं तिलक  

भगवान गणेश को पीला रंग काफी पसंद है इसके साथ ही उन्हें प्रसन्न करने के लिए सफेद चंदन के बजाए पीला चंदन ही चढ़ाना चाहिए. भगवान गणेश को तिलक लगाने के बाद परिवार के बाकी लोगों को भी इस चंदन का तिलक लगाना काफी शुभ माना जाता है.  

तुलसी चढ़ाने से बचें

भगवान गणेश की पूजा के दौरान भूलकर भी उन्हें तुलसी के पत्ते न चढ़ाएं. तुलसी को माता लक्ष्मी का ही एक रूप माना जाता है. इसलिए उन्हें तुलसी के बजाय मोदक चढ़ाना चाहिए. इससे वह काफी प्रसन्न होंगे.  

यह भी पढ़ेंः Hartalika Teej 2021: कब है हरतालिका तीज? जानें शुभ मुहूर्त, पूजन विधि और महत्व

सफेद फूल चढ़ाना भी अशुभ माना जाता है

भगवान गणेश को सफेद रंग और सूखे फूल चढ़ाना काफी अशुभ माना जाता है. बप्पा को केतकी के फूल भी नहीं चढ़ाने चाहिए. इस फूल का संबंध चंद्रमा से माना जाता है. चंद्रमा ने एक बार गणेश जी का मजाक उड़ाया था जिसके बाद गणेशजी ने उन्हें श्राप दे दिया था जिस वजह से चंद्रमा से जुड़ी सफेद चीजों को नहीं चढ़ाना चाहिए.

#Ganesha #Festival #Hinduism