"गणपति बप्पा, मोरया; मंगल मूर्ति, मोरया” यह एक ध्वनि है जो आपको एहसास कराती है कि यह भगवान गणेश के आगमन का समय है. पूरे वर्ष के दौरान, कई लोग इस विशेष क्षण की प्रतीक्षा करते हैं. गणेश चतुर्थी के नाम से मशहूर यह त्योहार इस साल 10 सितंबर को मनाया जा रहा है और इसकी तैयारियां जोरों पर हैं. 10 दिनों तक चलने वाले इस उत्सव के दौरान, भगवान गणेश को चढ़ाने के लिए कई मिठाइयाँ तैयार की जाती हैं और तैयार की जाने वाली सामान्य मिठाइयाँ मोदक, लड्डू और पूरन पोली हैं. हालांकि, भोग/प्रसाद केवल इन्हीं तक सीमित नहीं है. यहां कुछ ऐसे भोग हैं जो गणेश चतुर्थी के दौरान भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए तैयार किए जाते हैं.

यह भी पढ़ेंः Ganesh Chaturthi 2021: कब से शुरू है गणेश चतुर्थी? जानें पूजा का शुभ मुहूर्त

मोदक

गणेश चतुर्थी के दिन घर में लाकर विघ्नहर्ता की स्थापना की जाती है. इस दिन उनका जन्मदिन भी होता है इसलिए इस दिन उनके मनपसंद भोजन को मोदक का भोग लगाना चाहिए. पौराणिक ग्रंथों में मोदक का अर्थ सुख बताया गया है. इसलिए भगवान गणेश को सबसे सुखी देवता भी कहा जाता है.

नारियल के लड्डू

मोदक के बाद भगवान गणेश के भोग की लोकप्रियता सूची में नारियल के लड्डू सबसे ऊपर हैं. यह एक बहुत ही सरल व्यंजन है जिसे सिर्फ सूखा नारियल, खोया, इलायची पाउडर, घी और चीनी के पाउडर से बनाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: Ganesh Chaturthi: बप्पा मोरया की मूर्ति स्थापित करने से पहले जान लें ये 6 नियम

पीले रंग की मिठाई

पीला रंग गणेश जी को बहुत प्रिय है इसलिए इन दस दिनों में से एक दिन उन्हें पीले रंग की मिठाई का भोग लगाएं.

केला

सनातन धर्म में केले के भोग को भी उत्तम माना गया है. भगवान गणेश का मस्तक हाथी का है. कहते हैं केले का भोग सभी देवी-देवताओं को पसंद है. केले के

प्रसाद को सभी पवित्र और धार्मिक कार्यक्रमों में भी लिया जाता है.

नारियल

धार्मिक कार्यों के लिए नारियल को काफी शुभ माना जाता है. ऐसे में इन दस दिनों में भगवान गणेश को नारियल का भोग भी लगाना चाहिए.

मखाने की खीर

भगवान गणेश को मखाने की खीर बनाकर उसका भोग भी लगाया जा सकता है. गजानन को मीठा बहुत पसंद है.

यह भी पढ़ेंः Hartalika Teej 2021: कब है हरतालिका तीज? जानें शुभ मुहूर्त, पूजन विधि और महत्व

पूरन पोली

भगवान गणेश के भोग के लिए तैयार एक और लोकप्रिय व्यंजन पूरन पोली है, जो सभी प्रकार के आटे या मैदे से बनी एक चपटी रोटी है. मोदक की तरह इसमें भी फिलिंग भरी जाती है, जो ज्यादातर गुड़ और चना दाल से बनती है.

#Ganesha #GaneshFestival #Festival #Hinduism #Maharashtra #Dharm #Religion