सही बगीचे की मिट्टी के साथ एक वृक्षारोपण शुरू करना एक अच्छा विचार है, लेकिन कुछ बढ़ते मौसमों के बाद भी सबसे अच्छी मिट्टी पोषक तत्वों और कार्बनिक पदार्थों से समाप्त हो जाती है. निस्संदेह, स्वस्थ और उत्पादक उद्यान के लिए मिट्टी सबसे महत्वपूर्ण आधार है. मिट्टी को लगातार संशोधित करना और फिर से भरना इसकी उत्पादक गुणवत्ता को बनाए रखने का सबसे अच्छा तरीका है. सौभाग्य से, आपके रसोई घर में पड़े सब्जी के छिलके एक अच्छी खाद के रूप में उपयोग किए जा सकते हैं. घर का बना उर्वरक घर में खाद्य स्क्रैप और अन्य जैविक कचरे जैसे कार्बनिक पदार्थ का क्षय होता है. यह बगीचे की मिट्टी में सुधार करने और पौधों के लिए पोषण को बढ़ावा देने का एक शानदार तरीका है और शायद केवल एक चीज जो आपको अपने बगीचे को उर्वरित करने की आवश्यकता है.

यह भी पढ़ेंः जंबू है सब जड़ी बूटियों में सबसे खास, जानें वजह और इसके गजब के फायदे

रसोई के कूड़े से बनाएं पौधों के लिए खाद

घर पर खाद बनाने के लिए एक बड़ा सा मिट्टी का मटका या बाल्टी लें. अगर आपके पास खुली जगह है तो आप चाहें तो घर के पीछे एक छोटा सा गड्ढा (कम्पोस्ट पिट) भी खोद सकते हैं. सबसे पहले इस मटके या बाल्टी में थोड़ी सी मिट्टी बिछा दें. अब इसमें रसोई का गीला कचरा डालें जैसे फल या सब्जियोंके छिलके या टुकड़े, चाय बनाने में इस्तेमाल हुई चायपत्ती, बचा हुआ खाना आदि. उसके बाद इसमें सूखा कचरा जैसे सूखे पत्ते, लकड़ियां, भूसा आदि डालें. इसी तरह एक के बाद एक गीले कचरे और सूखे कचरे को थोड़ा-थोड़ा करके परतों में डालते जाएं. जब मटका या बाल्टी पूरी तरह सूखे और गीले कचरे के परतों से भर जाए तो उसे किसी प्लास्टिक या लकड़ी के फट्टे से ढक दें. समय-समय पर इसमें हाथों से पानी का छिड़काव करते रहें जिससे कंपोस्ट पिट के अंदर नमी बनी रहे. इस प्रक्रिया से एक महीने में खाद बनना शुरू हो जाएगी.

यह भी पढ़ेंःGardening Tips: कम स्पेस में बने अपने बगीचा का यू रखें ख्याल

रसोई के कचरे से बनाएं प्राकृतिक खाद

खाद बनाने के लिए एक बड़ा सा मिटटी का मटका या गमला लें और इसके निचले हिस्से में अख़बार बिछा दें. अब इसमें सूखे पत्ते बिछा दें और पत्तों के ऊपर रसोई का गीला कचरा जैसे फल और सब्जियों के छिलके, बचा हुआ खाना, गीली चायपत्ती आदि डालें. अब कचरे के ऊपर फिर से पत्ते बिछा दें. यदि सूखे पत्ते ना हों तो लकड़ी या नारियल का बुरादा भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इस प्रक्रिया से आप अपने पौधों के लिए घर के कचरे से प्राकृतिक खाद बना सकते हैं.

यह भी पढ़ेंः Gardening Tips: पौधों को हरा-भरा रखने के लिए करें गार्डन में हींग का इस्तेमाल