कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में दो बार खिताब दिलाने वाले पूर्व कप्तान गौतम गंभीर का मानना है कि इस फ्रेंचाइजी टीम के वर्तमान कप्तान दिनेश कार्तिक को इयोन मोर्गन और आंद्रे रसेल के बाद बल्लेबाजी के लिये उतरना चाहिए.

गंभीर ने इसके साथ ही कहा कि सुनील नरेन से पारी की शुरुआत कराने की बजाय उन्हें बल्लेबाजी क्रम में नीचे उतारना चाहिए.

कार्तिक की मुंबई इंडियन्स के खिलाफ तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 23 गेंदों पर 30 रन की पारी को छोड़ दें तो अभी तक वह बल्लेबाजी में खास योगदान नहीं दे पाये हैं जबकि वह मोर्गन से पहले बल्लेबाजी के लिये उतरे.

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैच में पांचवें नंबर पर उतरकर उन्होंने केवल पांच रन बनाये जबकि मोर्गन (18 गेंदों पर 44) और राहुल त्रिपाठी (16 गेंदों पर 36) क्रमश: छठे और आठवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिये आये.

गंभीर ने ईएसपीएनक्रिकइन्फो से कहा, ‘‘राहुल त्रिपाठी को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आना चाहिए. दिनेश कार्तिक को मोर्गन और रसेल के बाद छठे नंबर पर उतरना चाहिए. सुनील नारायण को आठवें या नौवें नंबर पर बल्लेबाजी करनी चाहिए. अगर मोर्गन चौथे और रसेल पांचवें नंबर पर आते हैं तो दिनेश कार्तिक उनके बाद क्रीज पर उतर सकते हैं. ’’

इस पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज को लगता है कि कार्तिक का स्पिनर वरुण चक्रवर्ती को 19वां ओवर सौंपना सही फैसला नहीं था. इस ओवर में 20 रन गये थे.

उन्होंने कहा, ‘‘आपके सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों को 18वां, 19वां और 20वां ओवर करना चाहिए, दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हुआ. पैट कमिन्स से इन ओवरों में गेंदबाजी करवानी चाहिए. अगर स्पिनर से करानी है तो सुनील नारायण है. यहां तक कि शिवम मावी को आजमाया जा सकता है जिन्होंने पिछले मैचों में अच्छी गेंदबाजी की. आंद्रे रसेल यह भूमिका निभा सकता है. आपको अपने सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज को गेंद सौंपनी चाहिए.’’

गंभीर ने कहा, ‘‘हां वरुण चक्रवर्ती ने पहले कुछ ओवर अच्छे किये थे लेकिन आप एक युवा स्पिनर से 19वें ओवर में अच्छे परिणाम की उम्मीद नहीं कर सकते और वह भी शारजाह में. संभवत: यह गलत आकलन था. ’’