महान भारतीय बल्लेबाज सुनील गावस्कर का मानना है कि केएल राहुल कप्तानी के लिए उपयुक्त हैं और उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम के भविष्य के कप्तान के रूप में तैयार किया जाना चाहिए. गावस्कर की ये टिप्पणी विराट कोहली के उस घोषणा के बाद आई है, जिसमें विराट ने टी20 वर्ल्ड कप के बाद टी20 की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है. कोहली की जगह रोहित शर्मा टी20 की कप्तानी निभा सकते हैं. 

स्पोर्ट्स तक पर सुनील गावस्कर ने कहा, "यह अच्छी बात है कि BCCI आगे देख रहा है. आगे के बारे में सोचना महत्वपूर्ण है."

गावस्कर ने कहा, "अगर भारत एक नए कप्तान को तैयार करना चाहता है, तो केएल राहुल की ओर देख जा सकता है. उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है. अब भी इंग्लैंड में उसकी बल्लेबाजी बहुत अच्छी थी. वह आईपीएल और 50 ओवरों के क्रिकेट में भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. अंतरराष्ट्रीय मंच पर राहुल को उप-कप्तान बनाया जा सकता है." बता दें कि राहुल आईपीएल में पंजाब किंग्स की कप्तानी कर रहे हैं.

गावस्कर ने कहा, "उन्होंने आईपीएल में बहुत प्रभावशाली नेतृत्व गुण दिखाए हैं. उन्होंने कप्तानी के बोझ को अपनी बल्लेबाजी पर असर नहीं डालने दिया. उनके नाम पर विचार किया जा सकता है."

यह भी पढ़ेंः भारतीय T20 कप्तान के तौर पर कैसा है विराट कोहली का रिपोर्ट कार्ड

विराट कोहली ने क्या कहा है 

विराट ने टी20 वर्ल्ड कप के बाद टी20 की कप्तानी छोड़ने का अपना फैसला सुनाते हुए कहा, "मैं न केवल भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए भाग्यशाली रहा हूं बल्कि अपनी पूरी क्षमता से भारतीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व भी कर रहा हूं. मैं उन सभी का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में मेरे सफर में मेरा साथ दिया. मैं उनके बिना ऐसा नहीं कर सकता था- टीम के खिलाड़ी, सपोर्ट स्टाफ से लेकर चयन समिति, मेरे कोच और हर भारतीय जिन्होंने हमारे जीतने की दुआ की."

उन्होंने आगे कहा, "कार्यभार को समझना एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात है और पिछले 8-9 वर्षों में सभी 3 प्रारूपों में खेलने और पिछले 5-6 वर्षों से नियमित रूप से खेलने के अपने अत्यधिक कार्यभार को देखते हुए, मुझे लगता है कि मुझे भारतीय टीम का नेतृत्व करने के लिए पूरी तरह से तैयार होने के लिए अपना खुद का स्थान देना होगा. टेस्ट और वनडे क्रिकेट में टीम. मैंने टी20 कप्तान के तौर पर अपने समय में टीम को सब कुछ दिया है और आगे बढ़ते हुए एक बल्लेबाज के तौर पर टी20 टीम के लिए ऐसा करना जारी रखूंगा."

उन्होंने आगे कहा, "बेशक इस निर्णय पर पहुंचने में काफी समय लगा. अपने करीबी लोगों, रवि भाई और रोहित, जो नेतृत्व समूह का एक अनिवार्य हिस्सा रहे हैं, उनके साथ बहुत चिंतन और चर्चा के बाद, मैंने अक्टूबर में दुबई में इस टी 20 विश्व कप के बाद टी 20 कप्तान के रूप में पद छोड़ने का फैसला किया है. मैंने इस बारे में सभी चयनकर्ताओं के साथ सचिव जय शाह और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से भी बात की है. मैं अपनी पूरी क्षमता से भारतीय क्रिकेट और भारतीय टीम की सेवा करना जारी रखूंगा."

यह भी पढ़ेंः IPL 2021: स्टेडियम में दर्शकों को आने की इजाजत, जानें कहां और कब मिलेगा टिकट