केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ 51 दिनों से आंदोलन जारी है. वहीं, सरकार और किसान नेताओं के बीच शुक्रवार (15 जनवरी) को 9वें दौर की हुई वार्ता में भी कोई समाधान नहीं निकल सका. वहीं, अब अगली वार्ता के लिए फिर से 19 जनवरी का दिन मुकर्रर किया गया है.

बैठक के बाद एक किसान नेता ने कहा, कोई समाधान नहीं निकला, न कृषि क़ानूनों पर न MSP पर. 19 जनवरी को फिर से मुलाकात होगी.

बता दें, केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर, रेलवे, वाणिज्य एवं खाद्य मंत्री पीयूष गोयल और वाणिज्य राज्य मंत्री तथा पंजाब से सांसद सोम प्रकाश ने करीब 40 किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ शुक्रवार को विज्ञान भवन में नौवें दौर की वार्ता की.

ससे पहले 11 जनवरी को उच्चतम न्यायालय ने तीन कृषि कानूनों के कार्यान्वयन पर अगले आदेश तक रोक लगा दी थी. शीर्ष अदालत ने इस मामले में गतिरोध को समाप्त करने के लिये चार सदस्यीय समिति का गठन किया था. हालांकि, समिति के सदस्य और भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष भूपिन्दर सिंह मान ने समिति से अपने को अलग कर लिया था.