Green Tea Benefits : जब से कोरोना महामारी शुरू हुई है तभी से अधिकतर लोगों ने ग्रीन टी का सेवन शुरू कर दिया. बहुत सारे एक्सपर्ट्स भी ग्रीन टी पीने की सलाह देते हैं. आपको बता दें कि ग्रीन टी पीने से हमारे शरीर को बहुत फायदे पहुंचते हैं. यदि किसी को वजन घटाना है तो उसमें भी ग्रीन टी बहुत सहायक है. ग्रीन टी का निर्माण अनाॅक्सिडाइज्ड पत्तियों का इस्तेमाल करके किया जाता है. ग्रीन टी की गिनती सबसे कम प्रोसेस्ड चाय में होती है.

ग्रीन टी में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट हमें हमेशा स्वस्थ रखता है और बहुत सारी बीमारी से दूर रखने में भी कारगर है. कुछ व्यक्ति सुबह खाली पेट ग्रीन टी का सेवन करते हैं लेकिन हम आपको बता दें कि खाली पेट ग्रीन टी सभी लोगों को डाइजेस्ट नहीं होती, तो अपने पेट के अनुसार चाय का सेवन करना चाहिए. अपने इस लेख में हम आपको बताएंगे ग्रीन टी बनाने का सही तरीका और इसका सेवन कैसे करें जिससे आप पूरा फायदा उठा सकें.

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन लिटरेचर रिव्यू के अनुसार, ग्रीन टी का प्रोडक्शन करने हेतु ताजी कटी हुई पत्तियों को फर्मेंटेशन से रोकने के लिए जल्द ही स्टीम किया जाता है. जिसके बाद एक ड्राई और स्टेबल प्रोडक्ट प्राप्त होता है. भाप पत्तियों में कलर पिगमेंटेशन को तोड़ने के लिए जिम्मेदार एंजाइमों को नष्ट कर देती है रोलिंग और सुखाने के प्रोसेस के दौरान चाय को अपना रंग बनाए रखने की अनुमति देता है.

यह भी पढ़ेंः अजवाइन शरीर के लिए होती है फायदेमंद, मगर सेवन से पहले इन बातों को जरूर पढ़ लें

एक दिन में इतने कप ग्रीन टी का सेवन करें

आपको बता दूं ग्रीन टी में अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट और पॉलिफिनॉल्स की मात्रा पाई जाती है. साथ ही कैफीन भी इसमें पाया जाता है. किसी भी व्यक्ति को 1 दिन में तीन कप से ज्यादा ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए. ज्यादा ग्रीन टी पीने से डिहाईड्रेशन की समस्या हो सकती है. साथ ही अधिक मात्रा में कैफीन के सेवन से उल्टी, दस्त, पेट खराब और टॉयलेट की समस्या उत्पन्न हो सकती है.

कभी भी खाना खाने के तुरंत पहले इसे ना पिए क्योंकि ऐसा करने से आपको कब्ज, पेट दर्द या मिचली की समस्या हो सकती है. सोने से पहले ग्रीन टी के सेवन से आपको नींद आने में समस्या आएगी. एक्सपर्टस भी दिन में एक से दो कप ग्रीन टी पीने की सलाह देते हैं. IBS से पीड़ित लोगों को ग्रीन टी से दूरी बनाकर रखनी चाहिए.

ग्रीन टी पीने के फायदे

1. ग्रीन टी में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट वजन घटाने में बहुत फायदेमंद है, यह मेटाबॉलिज्म को तेज कर देता है. ग्रीन टी के बाद एक्सरसाइज करने से फैट ऑक्सीडेशन बढ़ता है जो वजन को कंट्रोल करने में कारगर है.

2. ग्रीन टी स्किन से जुड़ी समस्याओं में भी कारगर है. यदि किसी को स्किन इंफेक्शन है तो वह इसका सेवन जरूर करें. साथ ही स्किन के डैमेज सेल्स की भरपाई करने में भी सहायक है. यदि कोई त्वचा की सूजन, स्किन टैनिंग, मुहांसों से जूझ रहा हो तो वह भी ग्रीन टी का सेवन अवश्य करें.

यह भी पढ़ेंः Curry Leaves : करी पत्ता है आहार में खजाना, कोलेस्ट्रोल और डायबिटीज को भी करे कंट्रोल

3. ग्रीन टी के रोजाना सेवन से आप कैंसर की बीमारी के खतरे को भी कम कर सकते हैं. ग्रीन टी में पाया जाने वाला पॉलिफिनॉल्स ट्यूमर और कैंसर सेल्स को रोकने में मदद करता है. ब्रेस्ट और प्रोटेस्ट कैंसर को रोकने में भी यह कारगर है.

4. ग्रीन टी की मदद से आप अपने शरीर के बेड कोलेस्ट्रोल के लेवल को भी आसानी से कम कर सकते हैं. साथ ही रोजाना ग्रीन टी पीने से धमनियों की ब्लॉकेज को भी दूर करने में मदद मिलती है.

5. एक्सपर्ट्स के अनुसार ग्रीन टी के सेवन से मानसिक तनाव से भी मुक्ति मिलती है. इसमें पाया जाने वाला कैफीन दिमाग के लिए अवरोधक न्यूरोट्रांसमीटर की प्रक्रिया को रोकने का काम करता है. साथ ही आप अपनी याददाश्त को भी अच्छी बना सकते हैं.

डिस्क्लेमर: यह लेख सामान्य जानकारी पर आधारित है. इसपर अमल करने से पहले संंबंधित विशेषज्ञ से राय जरूर लें.

यह भी पढ़ेंः पपीता तो खाया होगा लेकिन इसके पत्तों के जूस के हैं जबरदस्त फायदे, जानें सेवन का तरीका