अहमदाबाद, 22 मई (भाषा) गुजरात के जूनागढ़ जिले में गिर वन मंडल में विसावदार में एक बांध के निकट एक शेरनी और चार चिंकारा मृत पाए गए हैं। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि इन जानवरों की मौत प्रत्यक्ष तौर पर डूबने की वजह से हुई है और इसका ताउते चक्रवात से कोई संबंध नहीं जान पड़ता है। इस चक्रवात ने सप्ताह की शुरुआत में राज्य में तबाही मचाई थी।

जूनागढ़ के मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) दुष्यंत वसावदा ने बताया कि इन जानवरों के कंकाल गिर पश्चिम वन क्षेत्र के विसावदार के वेकरिया गांव में एक बांध के तटों पर शुक्रवार को मिला है। जानवरों की मौतों की वजहों का पता लगाया जा रहा है।

गुजरात में चक्रवात से बेहद प्रभावित जूनागढ़ में एशियाई शेरों की अच्छी खासी संख्या है।

अधिकारी ने बताया, ‘‘ बाघिन की उम्र पांच से नौ साल के बीच में है और ऐसा प्रतीत होता कि उसकी मौत डूबने से हुई है। वैसे यह घटना चक्रवात से जुड़ा हुआ नहीं प्रतीत होता है। बाघिन चिंकारा का पीछा करने के दौरान फंस गई होगी।’’

वन विभाग ने बताया कि शनिवार को भावनगर के वडाल में एक पशु देखरेख केंद्र में एक तेंदुआ की मौत हो गई। तेंदुआ को कुछ दिन पहले ही यहां लाया गया था।