गुजरात के सूरत जिले में मंगलवार को सड़क किनारे सो रहे प्रवासी मजदूरों में से 15 की ट्रक की चपेट में आने से मौत हो गयी. पुलिस ने यह जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि घटना सूरत से करीब 60 किलोमीटर दूर कोसांबा गांव के पास हुई. उन्होंने बताया कि मारे गये सभी प्रवासी मजदूर राजस्थान से थे. इसपर पीएम मोदी ने दुख जताया और मृतकों-घायलों को मुआवजा देने की बात भी कही है.

ANI के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूरत में ट्रक हादसे में जान गंवाने वाले लोगों की मौत पर दुख जताया. हादसे में जान गंवाने वाले लोगों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी. इस हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई.

बता दें, पुलिस ने बताया कि किम-मांडवी मार्ग पर सो रहे मजदूरों को ट्रक ने कुचल दिया. इनमें से 12 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई वहीं आठ घायलों में से तीन ने अस्पताल में दम तोड़ दिया. उन्होंने बताया कि ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है.