पीएम नरेंद्र मोदी की पर्सनल वेबसाइट का ट्विटर अकाउंट आज हैक कर लिया गया था. हैकर ने कोविड-19 रिलीफ फंड के लिए डोनेशन में बिटक्वाइन की मांग की. हालांकि ये ट्विट्स जल्द ही डिलीट कर दिए गए.

दरअसल, @Narendramodi_in के ट्विटर हैंडल पर 2.5 मिलियन से अधिक फॉलोअर्स हैं. इस साइबर हमले से पीएम मोदी के अन्य सोशल मीडिया अकाउंट प्रभावित नहीं हुए.

ट्विटर की ओर से जारी बयान में कहा है कि हम इस घटना से अवगत हैं और मामले की जांच कर रहे हैं. समाचार एजेंसी रायटर्स ने ट्विटर के प्रवक्ता के हवाले से कहा है कि हम इस मामले की जांच गहनता से कर रहे है. इस समय उनके अन्य खातों के प्रभावित होने की जानकारी नहीं मिली है.

बता दें कि पीएम मोदी की पर्सनल वेबसाइट के टि्वटर अकाउंट पर हैकर ने मैसेज में लिखा कि मैं आप लोगों से अपील करता हूं कि कोविड-19 के लिए बनाए गए पीएम मोदी रिलीफ फंड में डोनेट करें.

एक दूसरे ट्वीट में हैकर ने लिखा कि यह अकाउंट जॉन विक ने हैक किया है. हमने पेटीएम मॉल हैक नहीं किया है.

बता दें कि इससे पहले भी जुलाई बड़ी हस्तियों के ट्विटर अकाउंट हैक कर लिए गए थे. इसमें वॉरेन बफेट , बराक ओबामा, जो बाइडेन और बिल गेट्स जैसी हस्तियां शामिल थीं. हैकर ने यहां भी बिटक्वाइन की मांग की थी.