इंडियन एयरफोर्स के A C-130J सुपर हरक्यूलिस ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट ने गुरुवार को राजस्थान के बाड़मेर के नेशनल हाईवे पर इमरजेंसी लैंडिग की. इस एयरक्राफ्ट में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया सवार थे. यह लैंडिंग सशस्‍त्र बलों की रेडीनेस ड्रिल यानी एक अभ्‍यास की तरह की गई थी. इस फील्ड लैंडिंग के पीछे का उद्देश्य बचाव और सैन्य ऑपरेशन के दौरान एयरक्राफ्ट की लैंडिंग के लिए आपातकालीन हवाई पट्टियों के रूप में सड़क का टेस्ट करना है.

यह भी पढ़ें: NIRF ranking 2021: IIT मद्रास देश का सर्वश्रेष्ठ संस्थान, देखें पूरी लिस्ट

राजस्थान में बाड़मेर के पास NH-925A पर भारतीय वायु सेना के लिए इमरजेंसी लैंडिंग सुविधा को ध्यान में रखते हुए 3 किमी लंबी हवाई पट्टी का निर्माण किया है. इसके बाद आज केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और नितिन गडकरी ने इस इमरजेंसी लैंडिंग फील्ड का उद्घाटन किया. इमरजेंसी लैंडिंग फील्ड के उद्घाटन के एक दिन पहले भी भारतीय वायुसेना के तीन फाइटर विमानों को अभ्यास के तौर पर उतारा गया था.इस पर सुखोई, मिग और अगस्ता हेलिकॉप्टर से भी लैंडिंग का अभ्यास किया. ये इमरजेंसी लैंडिंग फील्ड भारत-पाकिस्तान की सीमा से सिर्फ 40 किलोमीटर दूर है. जिस वजह से अगर भविष्य में युद्ध होता है तो इस हवाई पट्टी से भारतीय वायु सेना को काफी मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें: VIDEO: शिल्पा शेट्टी ने घर में गणपति बप्पा का स्वागत किया, बेटे वियान के हाथों कराए शुभ काम

‘भारत हर चुनौती का सामना करने में सक्षम है’

राजस्थान में इस हवाई पट्टी के उद्घाटन के समय भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, “अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर से कुछ ही कदम दूर इस प्रकार की इमरजेंसी लैंडिंग फील्ड का तैयार होना सिद्ध करता है कि भारत अपनी एकता, संप्रभुता और अखंडता की रक्षा के लिए सदैव तैयार है। भारत के अंदर किसी भी चुनौती का सामना करने की क्षमता है”.

भारत के पास इमरजेंसी लैंडिंग के लिए कुल 12 नेशनल हाईवे हैं

एक रिपोर्ट के मुताबिक, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के साथ-साथ भारत के पास कुल 12 हाईवे ऐसे हैं. जहां वायु सेना के एयरक्राफ्ट की आपातकालीन लैंडिंग कराने के लिए एक हवाई पट्टी की तरह काम कर सकते हैं. अक्टूबर 2017 में, वायुसेना के लड़ाकू जेट और परिवहन विमानों ने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर लैंडिंग का भी अभ्यास किया था. 

यह भी पढ़ें: टी20 वर्ल्ड कप के लिए क्यों हुआ आर अश्विन का चयन, चीफ सिलेक्टर चेतन शर्मा ने बताई वजह