: ललित के झा :

वाशिंगटन, 28 अप्रैल (भाषा) अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि देश भारत को हर वह मदद भेज रहा है जिसकी कोविड-19 के खिलाफ जंग में उसे जरूरत पड़ेगी। साथ ही उन्होंने दोहराया कि भारत ने भी पिछले साल यही किया था जब उनके देश को जरूरत पड़ी थी।

बाइडन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ सोमवार को विस्तार से चर्चा की थी और इस घातक बीमारी के खिलाफ भारत की लड़ाई में देश के प्रति एकजुटता प्रदर्शित की थी।

बाइडन ने मंगलवार को व्हाइट हाउस के संवाददाता सम्मेलन में कहा, “हम मदद की पूरी श्रृंखला तत्काल भेज रहे हैं जिसकी उन्हें जरूरत है, इनमें रेमडेसिविर और अन्य दवाएं भी शामिल हैं जो इसका सामना करने में सक्षम हैं।”

उन्होंने कहा, “हम टीका बनाने की प्रणाली के लिए जरूरी असल मशीनी हिस्सों को भेज रहे हैं और यह भेजा भी जा चुका है।”

राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से इस बात पर भी चर्चा की कि अमेरिका भारत को असल टीके कब भेज पाएगा।

उन्होंने कहा, “फिलहाल दिक्कत यह है कि हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि नोवावैक्स और अन्य संभावित टीके हमारे पास हों और मेरे विचार में हम टीके साझा करने की स्थिति में होंगे और दूसरे देशों के बारे में भी जानकारी जुटा पाएंगे जिन्हें वाकई में इनकी जरूरत है।”

बाइडन ने कहा, “मुझे यह बता देना चाहिए कि शुरुआत में जब हम तकलीफ में थे, भारत ने हमारी मदद की थी।”

भाषा

नेहा मनीषा

मनीषा