रांची, 26 मई (भाषा) झारखंड सरकार ने बुधवार को दावा किया कि राज्य में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की मंगलवार की सूचना के विपरीत कोरोना वायरस टीकों की सिर्फ 4.65 प्रतिशत खुराक ही बेकार गयी हैं और केन्द्र सरकार को पत्र लिखकर आंकड़ों में सुधार करने का अनुरोध किया है।

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी स्पष्टीकरण में कहा गया है कि राज्य सरकार के पास अब तक टीके की कुल खुराक की उपलब्धता के अनुसार, अपव्यय अनुपात केवल 4.65 प्रतिशत है।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने बयान में कहा, ‘‘तकनीकी कठिनाइयों के कारण टीकाकरण आंकड़ों को केंद्रीय को-विन सर्वर पर पूरी तरह से अपडेट नहीं किया जा सका। इस लिहाज से प्रक्रिया जारी है।’’

इस बीच राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह ने ‘पीटीआई भाषा’ से कहा कि सिर्फ कोविन ऐप के आंकड़ों के आधार पर इस तरह का विश्लेषण उचित नहीं है। राष्ट्रीय स्तर पर आंकड़े जारी करने से पूर्व राज्य के अधिकारियों से पुष्टि की जानी चाहिए थी।

उन्होंने बताया कि इस मामले में आज उन्होंने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को पत्र लिखकर कोरोना टीकों की बर्बादी पर अपने आंकड़ों में सुधार के लिए अनुरोध किया है।

भाषा इन्दु आशीष वैभव

वैभव