राज्यों और संघ शासित प्रदेशों की कारोबार सुगमता रैंकिंग में आंध्र प्रदेश एक बार फिर से शीर्ष पर रहा है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा शनिवार को जारी एक रिपोर्ट के अनुसार राज्यों-संघ शासित प्रदेशों को यह रैंकिंग कारोबार सुधार कार्रवाई योजना के आधार पर दी गई है.

उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (डीपीआईआईटी) द्वारा तैयार कारोबार सुगमता रैंकिंग-2019 में उत्तर प्रदेश दूसरे और तेलंगाना तीसरे स्थान पर है. रिपोर्ट जारी करते हुए सीतारमण ने कहा कि यह रैंकिंग राज्यों और संघ शासित प्रदेशों कारोबार करने की दृष्टि से बेहतर स्थान बनाती है.

राज्यों को रैंकिंग कई मानकों मसलन निर्माण परमिट, श्रम नियमन, पर्यावरण पंजीकरण, सूचना तक पहुंच, जमीन की उपलब्धता तथा एकल खिड़की प्रणाली के आधार पर दी जाती है.

कारोबार सुधार कार्रवाई योजना के तहत उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग सभी राज्यों और संघ शासित प्रदेशों के लिए इस प्रकिया को पूरा करता है.

पिछली रैंकिंग जुलाई, 2018 में जारी हुई थी. उस समय आंध्र प्रदेश पहले स्थान पर रहा था. उसके बाद क्रमश: तेलंगाना और हरियाणा का स्थान रहा था.