मुम्बई में अमिताभ बच्चन और जया बच्चन के बंगलों के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी गयी है. एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी. एक दिन पहले ही जया बच्चन ने संसद में कहा था कि फिल्मोद्योग को कुछ लोग बदनाम कर रहे हैं और उन्होंने सरकार से इस उद्योग की सुरक्षा करने और उसका साथ देने का आह्वान किया.

अधिकारी ने कहा, ‘‘ अमिताभ बच्चन के पास पहले से ही एक्स श्रेणी की सुरक्षा है. (संसद में जया बच्चन द्वारा) भाषण देने के बाद हमने जुहू में उनके बंगले के आसपास सुरक्षा और गश्ती बढ़ा दी है.’’

बच्चन परिवार का जुहू में ‘जलसा’, ‘जनक’ और ‘प्रतीक्षा’ नामक बंगले हैं. वे ‘जलसा’ और ‘प्रतीक्षा’ में रहते हैं.

अधिकारी ने बताया कि जया बच्चन के भाषण के बाद किसी भी अप्रिय घटना को टालने के लिए एहतियात के तौर पर सुरक्षा बढ़ायी गयी है.

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद विवादों के साये से गुजर रहे बॉलीवडु का पक्ष लेते हुए जया बच्चन ने राज्यसभा में मंगलवार को सरकार से मनोरंजन उद्योग का साथ देने का आह्वान किया. उन्होंने उसकी छवि को धूमिल करने वालों को निशाने पर लिया.

जया बच्चन ने कहा कि ‘कुछ लोग’ जिस थाली में खाते हैं, उसी में वे छेद करते हैं.

वैसे तो उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया लेकिन उससे एक दिन पहले ही भाजपा के लोकसभा सदस्य और भोजपुरी अभिनेता रविकिशन ने कहा था कि फिल्मोद्योग में मादक पदार्थ व्यसन की समस्या है.

उन्होंने कहा कि वह उन लोगों से पूरी तरह असहमत हैं जो इस मनोरंजन उद्योग को ‘गटर’ कहते हैं. कंगना रनौत ने पिछले महीने एक ट्वीट मे बॉलीवडु को गटर कहा था.