हमारा देश 2020 जनवरी से कोरोना महामारी से जंग लड़ रहा है. हमारे डॉक्टर्स, स्वास्थ्य कर्मी, पैरामेडिकल स्टाफ, पुलिस ऑफिसर, जवान सभी हमारी रक्षा करने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं. भारत में इस वक्त कोरोना की स्थिति नॉर्मल है. केस कम मात्रा में दिखाई दे रहे हैं लेकिन ऐसा कहना जल्दबाजी होगी कि कोरोना पूरी तरीके से भारत से चला जाएगा. एक्सपर्ट के अनुसार कोरोना की तीसरी लहर कभी भी आ सकती है. इसी बीच देश में फेस्टिव सीजन की शुरुआत भी हो गई है. 7 अक्टूबर से नवरात्रों का त्योहार शुरु हो चुका है. आपको बता दें कि यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेल मंत्रालय ने अपने कोविड-19 गाइडलाइंस को 6 महीने के लिए या अगले निर्देश तक बढ़ा दिया है. आदेश के मुताबिक रेलवे परिसर और ट्रेन में मास्क न पहनने पर आपको 500 रुपए तक का जुर्माना भरना पड़ सकता है.

यह भी पढ़ें: Indian Railways: IRCTC की इस नई सुविधा के बारे में जानिए, जो तुरंत दिलाएगी कंफर्म टिकट

आपकी जानकारी के लिए बता दें इससे पहले भारतीय रेलवे ने 17 अप्रैल 2021 को लोगों की तरफ से मास्क पहने जाने को लेकर खास गाइडलाइंस जारी की थी. हाल ही में रेलवे की ओर से जारी किए गए नए नोटिफिकेशन में 17 अप्रैल को जारी नोटिफिकेशन का जिक्र किया गया है. उन्होंने गाइडलाइंस को 16 अप्रैल 2022 या अगले निर्देश तक के लिए बढ़ा दिया है. पुराने नोटिफिकेशन की मियाद इसी महीने 16 अक्टूबर को खत्म होने वाली थी.

यह भी पढ़ें: Indian Railways: नवरात्रि के मौके पर IRCTC का टूर पैकेज, कम पैसे में करें वैष्णो देवी की यात्रा 

देश में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 22 हजार मामले सामने आए

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 22 हजार मामले पाए गए हैं. आज भी प्रतिदिन औसतन 20 हजार के करीब कोरोना के केस देखे जा रहे हैं. पिछले हफ्ते दर्ज किए गए मामलों में से 56 फ़ीसदी केरल राज्य से थे. अग्रवाल ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए बताया कि पांच राज्य ऐसे हैं जहां अभी भी 10,000 से ज्यादा सक्रिय मामले हैं. केरल में 1 लाख 22 हजार के करीब सक्रिय मामले हैं, महाराष्ट्र में 36 हजार के करीब सक्रिय मामले हैं. तमिलनाडु, मिजोरम और कर्नाटक में भी सक्रिय मामलों की संख्या अधिक है.

यह भी पढ़ें: Indian Railway कर रहा बड़े बदलाव की तैयारी, प्राइवेट कंपनियों को किराए पर मिलेगी ट्रेनें