शिखर धवन की एक और बड़ी पारी और मार्कस स्टोइनिस के आलराउंड खेल से दिल्ली कैपिटल्स ने रविवार को यहां सनराइजर्स हैदराबाद को 17 रन से हराकर पहली बार इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल में जगह बनायी. दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए तीन विकेट पर 189 रन का मजबूत स्कोर बनाया. इसके जवाब में सनराइजर्स आठ विकेट पर 172 रन ही बना सका. दिल्ली मंगलवार को फाइनल में चार बार के चैंपियन मुंबई इंडियन्स से भिड़ेगा जिससे वह पहले क्वालीफायर में हार गया था.

बायें हाथ के बल्लेबाज धवन ने 50 गेंदों पर 78 रन बनाये जिसमें पांच चौके और दो छक्के शामिल हैं. उन्होंने मार्कस स्टोइनिस (27 गेंदों पर 38, पांच चौके, एक छक्का) के साथ पहले विकेट के लिये 86 रन जोड़कर दिल्ली को अच्छी शुरुआत दिलायी. शिमरोन हेटमायर ने अंतिम ओवरों में 22 गेंदों पर चार चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 42 रन बनाये.

सनराइजर्स का क्षेत्ररक्षण और गेंदबाजी प्रभावहीन रही. स्टोइनिस और धवन दोनों को जीवनदान मिले. बल्लेबाजी में उसका शीर्ष क्रम असफल रहा. पिछले मैच में जीत के नायक केन विलियमसन (45 गेंदों पर 67, पांच चौके, चार छक्के) और अब्दुल समद (16 गेंदों पर 33, दो चौके, दो छक्के) के बीच पांचवें विकेट के लिये 57 रन की साझेदारी उसकी पारी का आकर्षण रही. स्टोइनिस ने गेंदबाजी में भी कमाल दिखाया तथा 26 रन देकर तीन विकेट लिये. कैगिसो रबाडा ने 29 रन देकर चार विकेट हासिल किये.

सनराइजर्स ने पावरप्ले में ही तीन विकेट गंवा दिये. कप्तान डेविड वार्नर (दो) को रबाडा ने इनस्विंग यार्कर पर बोल्ड किया. सलामी बल्लेबाज के रूप में उतरे प्रियम गर्ग (17) ने आर अश्विन और एनरिक नोर्जे पर छक्के लगाये, लेकिन स्टोइनिस ने उन्हें बोल्ड करने के बाद मनीष पांडे (21) को भी सीमा रेखा पर कैच करवाकर मैच का परिणाम तय करवा दिया. विलियमसन ने बीच बीच में लंबे शॉट खेलकर स्कोर बोर्ड चलायमान रखा लेकिन पिंच हिटर के तौर पर भेजे गये जैसन होल्डर (15 गेंदों पर 11) बल्लेबाजी में भी नहीं चले. विलियमसन ने 35 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया. इस बीच उन्होंने प्रवीण दुबे, अक्षर पटेल, रबाडा और स्टोइनिस पर छक्के लगाये.

समद ने नोर्जे पर छक्का और दो चौके लगाकर सनराइजर्स की उम्मीद बढ़ायी. सनराइजर्स को अंतिम चार ओवर में 51 रन चाहिए थे लेकिन स्टोइनिस ने विलियमसन को आउट करके दिल्ली की जीत सुनिश्चित कर दी. रबाडा ने अपने आखिरी ओवर में समद, राशिद खान (11) और श्रीवत्स गोस्वामी (शून्य) को आउट किया. इससे पहले दिल्ली की तरफ से पारी का आगाज करने वाले स्टोइनिस जब तीन रन पर था तब होल्डर ने उनका कैच छोड़ा. स्टोइनिस ने संदीप पर दो चौके लगाये और फिर होल्डर (50 रन देकर एक विकेट) के ओवर में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 18 रन बटोरे.

वार्नर ने पावरप्ले का अंतिम ओवर स्पिनर शाहबाज नदीम को सौंपा लेकिन संदीप पर दो चौके लगाकर लय पकड़ने वाले धवन ने मिडविकेट पर छक्के और चौके से उनका स्वागत किया. पावरप्ले तक स्कोर बिना किसी नुकसान के 65 रन पहुंच गया. राशिद खान ने स्टोइनिस को बोल्ड करके सनराइजर्स को बड़ी राहत दिलायी लेकिन दूसरे स्पिनर नदीम (चार ओवर में 48 रन) पिछले मैच की तरह प्रभाव नहीं छोड़ पाये. धवन ने उनकी गेंद पर छक्का जड़कर केवल 26 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया. कप्तान श्रेयस अय्यर (20 गेंदों पर 21) ने पारी संवारने की कोशिश की लेकिन वह लंबी पारी नहीं खेल पाये और मिडऑफ पर आसान कैच देकर पवेलियन लौटे. उनका स्थान लेने के लिये उतरे हेटमायर ने आवश्यक तेजी से रन बनाये. नटराजन पर छक्का जड़ने के बाद उन्होंने होल्डर पर तीन चौके लगाये.

राशिद ने धवन का आसान कैच छोड़ा लेकिन संदीप उन्हें इसी ओवर में पगबाधा आउट करने में सफल रहे. संदीप और नटराजन (चार ओवर में 32 रन) ने अंतिम दो ओवरों में केवल 13 रन दिये. संदीप (30 रन देकर एक) और राशिद (26 रन देकर) ने सनराइजर्स की तरफ से प्रभाव छोड़ा.