सिडनी में चल रहे चौथे टेस्ट मैच के आखिरी दिन चोट से जूझ रहे रवींद्र जडेजा मैदान पर उतर सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक, टीम इंडिया को बल्लेबाजी की जरूरत पड़ी तो जडेजा इंजेक्शन लेकर बल्लेबाजी करते नजर आएंगे.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यहां जारी तीसरे टेस्ट मैच के दौरान शनिवार को अंगूठे में चोट के बाद फ्रेक्चर और ‘डिस्लोकेशन’ का सामना करने वाले भारतीय हरफनमौला रवींद्र जडेजा सीरीज के आखिरी टेस्ट से बाहर हो गए हैं. वहीं, इंग्लैंड के खिलाफ आगामी श्रृंखला के पहले दो टेस्ट मैचों से बाहर हो गये हैं.

भारत की पहली पारी में बल्लेबाजी के दौरान मिशेल स्टार्क की शॉर्ट गेंद उनके बायें हाथ के दस्ताने पर लगी थी जिसके बाद उन्हें चिकित्सा मदद लेनी पड़ी. चोट के कारण वह ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में गेंदबाजी नहीं कर सके.

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के एक सूत्र ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘ रविंद्र जडेजा इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट से बाहर हो गये हैं. उन्हें पूरी तरह से ठीक होने में चार से छह सप्ताह की आवश्यकता होगी.’’

इंग्लैंड के खिलाफ चार मैचों की इस श्रृंखला की शुरूआत पांच फरवरी से चेन्नई में होगी. पहला और दूसरा टेस्ट चेन्नई में खेला जाएगा.

पहली पारी में इस वामहस्त खिलाड़ी ने चार विकेट लेने के बाद नाबाद 28 रन बनाकर टीम के लिए शानदार योगदान दिया. सिडनी टेस्ट में अगर जरूरत पड़ी तो वह दर्द निवारक इंजेक्शन लेकर बल्लेबाजी करेंगे.

सूत्र ने कहा, ‘‘ टेस्ट बचाने के लिए अगर जरूरत पड़ी तो वह इंजेक्शन लेकर बल्लेबाजी करेंगे.

भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि कोहनी में चोट का सामना करने वाले ऋषभ पंत दूसरी पारी में बल्लेबाजी करेंगे.

मैच के तीसरे दिन बल्लेबाजी के दौरान पंत चोटिल हो गये थे. पैट कमिंस की गेंद उनकी कोहनी पर लगी थी.

जडेजा और पंत को इसके बाद स्कैन के लिए ले जाया गया जहां पंत की चोट ज्यादा गंभीर नहीं निकली.