भारतीय संस्कृति में जड़ी बूटियों का खास महत्व है. ये जड़ी बूटिया एक औषधीय के रूप में काम करती है जो हमारे शरीर को कई गंभीर बीमारियों से बचाती है. आज हम आपको बताएंगे जंबू के बारे में ये एक ऐसी औषधीय के बारे जिसके बारे आपने पहले शायद ही सुना होगा. जम्बू उच्च हिमालयी क्षेत्रों में पाया जाने वाला पौधा है, जो प्याज या लहसुन के पौधे का हमशक्ल है. यह 10,000 फीट से अधिक की ऊँचाई पर प्राकृतिक रूप से पैदा होता है. उच्च हिमालयी क्षेत्रों में ग्रीष्मकालीन प्रवास करने वाले लोग अपनी जरूरत के हिसाब से इसकी खेती भी करने लगे हैं. मसाले के रूप में जम्बू का इस्तेमाल मीट, दाल, सब्जी, सूप, सलाद और अचार आदि में किया जाता है. इसमें ग़जब का स्वाद और खुश्बू होती है.

यह भी पढ़ेंःGardening Tips: कम स्पेस में बने अपने बगीचा का यू रखें ख्याल

जिंबू एक मौसमी जड़ी बूटी है, जिसकी कटाई अप्रैल और सितंबर के बीच की जाती है. इसे एक साथ पकाने में उपयोग के लिए एकत्र, सुखाया और संग्रहीत किया जाता है. भारतीय जड़ी-बूटियों को लेकर बढ़ती चिंता के साथ इस दुर्लभ जड़ी-बूटी का कारोबार अब सीमा पार होता जा रहा है. इसका कारोबार उत्तराखंड में होता है, लेकिन नेपाल और तिब्बत के कुछ हिस्सों में भी इसे उगाया और इस्तेमाल किया जाता रहा है.

बुखार करें ठीक

अगर आपको आए दिन बुखार रहता है तो जिम्बू का सेवन करना चाहिए. इसका उपयोग सदियों से फ्लू और बुखार जैसी विभिन्न बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता रहा है.

यह भी पढ़ेंः Gardening Tips: पौधों को हरा-भरा रखने के लिए करें गार्डन में हींग का इस्तेमाल

प्रसव को बनाए आसान

डिलीवरी से पहले अगर महिला को यह जड़ी-बूटी खिला दी जाए, तो प्रसव आसानी से हो जाता है. स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए भी इसका सेवन अच्छा और सुरक्षित माना गया है.

पीरियड्स की समस्या का इलाज

पीरियड्स के दिनों में महिलाओं को कई तरह की समस्याएं होती हैं. ऐसे में यह अद्भुत जड़ी-बूटी मासिक धर्म की परेशानी को कम करने में सहायक है. यह पेट के विकार में इलाज में मदद करता है.

यह भी पढ़ेंः 5 हाउसप्लांट जो रखें आपको फिजिकली और मेंटली स्ट्रांग, आज ही लगाएं घर में

डायबिटीज में है फायदेमंद

इसके सेवन से ह्दय रोग और मधुमेह जैसी बीमारियों से बचना काफी आसान हो जाता है. बेशक आप इनके लिए दवा ले रहे हों, लेकिन इस एक जड़ी बूटी का सेवन आपकी सभी बीमारियों का इलाज करने में कारगार है.

यह भी पढ़ेंः Gardening Tips: आपके गार्डन के पौधों में लगे हैं सफेद कीड़े तो ऐसे करें उपाय

डिस्क्लेमर:खबरों में दी गई टिप्स एक सामान्य जानकारी है. आप इसका इस्तेमाल करने से पहले विशेषज्ञों की सलाह ले सकते हैं.