अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने घोषणा की है कि कोरोना वायरस महामारी से निपटने की उनकी प्रारंभिक योजना में अपने कार्यकाल के पहले 100 दिनों में दस करोड़ अमेरिकियों को कोविड-19 टीका लगाना शामिल है. बाइडन ने कहा कि इस नए प्रयास में पूरे राष्ट्र को एकजुट किया जाएगा और टीकाकरण, जांच और प्रकोप से निपटने के अन्य उपायों के लिए संघीय कोष से अरबों डालर खर्च किए जाएंगे.

उन्होंने शुक्रवार को कहा, 'आप लोगों से मेरा वादा है: हम इस अभियान से इस प्रकोप को संभालेंगे.’’ उन्होंने कहा कि इसके लिए संसद को अधिक धन खर्च करने की मंजूरी देनी होगी. उन्होंने लोगों से मास्क पहनने, भीड़भाड़ से बचने और अक्सर अपने हाथों को धोते रहने जैसे बुनियादी सावधानियों का पालन करने की भी अपील की. बाइडन ने कहा, ‘‘यह राजनीतिक मुद्दा नहीं है. यह जीवन बचाने के बारे में है. मुझे पता है कि यह एक पक्षपातपूर्ण मुद्दा बन गया है, लेकिन यह मूर्खतापूर्ण है और मूर्खतापूर्ण चीजें हो रही है .’’

बाइडन ने महामारी से निपटने और अस्थिर अर्थव्यवस्था को तात्कालिक सहायता प्रदान करने के लिए 1.9 ट्रिलियन डॉलर के 'अमेरिकन रेस्क्यू प्लान' की घोषणा करने के एक दिन बाद यह बात कही. इस योजना में 400 बिलियन डॉलर कोरोना वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के उद्देश्य से खर्च किया जाएगा. इस योजना के तहत पूरे अमेरिका में बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान चलाने और महामारी से निपटने संबंधी कई अन्य उपाए किए जाने हैं.