महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ विवादित बयान देने को लेकर महाराष्ट्र पुलिस ने केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को गिरफ्तार कर लिया है. उन्हें पहले रत्नागिरी जिले से हिरासत में लिया गया था. वह जन आशीर्वाद यात्रा पर थे जब पुलिस ने उन्हें रत्नागिरी जिले में उन्हें हिरासत में लिया गया. अब उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा. वहीं, महाराष्ट्र पुलिस की कार्रवाई के बाद बीजेपी ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ट्वीट कर कहा, 'महाराष्ट्र सरकार द्वारा केंद्रीय मंत्री नारायण राणे जी की गिरफ़्तारी संवैधानिक मूल्यों का हनन है. इस तरह की कार्यवाही से ना तो हम डरेंगे, ना दबेंगे. बीजेपी को जन-आशीर्वाद यात्रा में मिल रहे अपार समर्थन से ये लोग परेशान है. हम लोकतांत्रिक ढंग से लड़ते रहेंगे, यात्रा जारी रहेंगी.'

यह भी पढ़ेंः अफगान पॉप स्टार आर्यना सईद बोलीं- पाकिस्तान तालिबान का मददगार, भारत हमारा सच्चा दोस्त

वहीं महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि केंद्रीय कैबिनेट मंत्री को गिरफ़्तार करना यह महाराष्ट्र के इतिहास में पहली बार हो रहा है. यह सत्ता का दुरुपयोग है. हम इसे सहन नहीं करेंगे.

उन्होंने कहा कि हर सांसद का कुछ अधिकार होता है उस अधिकारों का हनन हुआ है. लोकसभा के अध्यक्ष और राज्यसभा के सभापति को इस मामले में हमारे सभी सांसद याचिका सौपेंगे.

यह भी पढ़ें: यूक्रेन का विमान काबुल में हाईजैक किया गया, अलग-अलग दावे सामने आए

गौरतलब है कि, नारायण राणे के खिलाफ अब तक कई एफआईआर दर्ज किए जा चुके हैं. उनके विवादित बयान के बाद शिवसेना के कार्यकर्ता भड़क गए और उनके खिलाफ आंदोलन शुरू कर दिया.

आपको बता दें, नारायण राण ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर विवादित बयान दिया था. इस बयान में उन्होंने सीएम की आलोचना करने के साथ ही उन्हें थप्पड़ तक मारने की बात कह दी थी. इसके बाद ही नारायण राणे पर कई एफआईआर दर्ज किए गए हैं.

नारायण राणे उस समय आशीर्वाद यात्रा कर रहे थे और वह रायगढ़ में थे. इसी दौरान जब वह लोगों को संबोधित कर रहे थे तो राणे ने कहा सीएम ये भूल गए की देश कब आजाद हुआ था. अपने भाषण के दौरान उन्होंने अपने सहयोगी से आजादी का साल पूछा था. इसके बाद राणे ने कहा अगर मैं वहां होता तो उन्हें जोरदार थप्पड़ मारता.

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान में तालिबान संकट: पीएम मोदी ने व्लादिमीर पुतिन से फोन पर लंबी बात की