बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत अपनी फिल्मों के अलावा सोशल मीडिया पर अपने बयानों के लिए पहचान जाती हैं. मगर सोशल मीडिया पर अगर कोई जरूरत से ज्यादा हिंसात्मक बातें करता है तो उन्हें उस प्रोफाइल से हाथ धोना पड़ता है और कुछ ऐसा ही कंगना रनौत के साथ भी हुआ है, जब ट्विटर ने उनका अकाउंट ही सस्पेंड कर दिया.

यह भी पढ़ें- कंगना रनौत ने बंगाल हिंसा पर किया कमेंट, टीएमसी समर्थकों के लिए कही ये बात

कंगना रनौत का ट्विटर अकाउंट.

कंगना रनौत ने पिछले 24 घंटों में कई अलग-अलग मुद्दों पर ट्वीट किए थे जिसमें ऑक्सीजन की कमी, बंगाल हिंसा और भी कई मुद्दे थे जिसको लेकर कई लोगों ने कंगना की आलोचना की थी.

इसके बाद कंगना रनौत ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया. इस वीडियो में कंगना इमोशनल होते हुए बोल रही हैं, 'दोस्तों हम सब देख रहे हैं कि बंगाल से  बहुत ही ज्यादा डिस्टर्ब करने वाली खबरें आ रही हैं, फोटो आ रही हैं, वीडियोज आ रहे हैं. खुलेआल लोगों के मर्डर हो रहे हैं, घरों को जलाया जा रहा है लेकिन कोई भी लिबरल कुछ नहीं कह रहा है. कोई इंटरनेशनल पेपर या प्लेटफॉर्म इसे कवर नहीं कर रहा है. मुझे समझ नहीं आ रहा है कि ये लोग करना क्या चाहते हैं क्या हिंदू खून इतना सस्ता है या कोई बहुत चीज का हम शिकार हो रहा है. मैं अपनी सरकार जिनकी मैं बहुत बड़ी सपोर्टर हूं उनसे कहना चाहती हूं कि मैं बहुत ज्यादा निराश हूं जब वहां पर खून की नदिया बह रही हैं तब आप वहां पर निंदा करना चाहते हैं, धरना चाहते हैं.''

कंगना ने आगे कहा, ''क्यों डर गए हैं देशद्रोहियों से इतना, देशद्रोही देश चलाएंगे क्या अब. मुझे पता है वो बहुत शोर करते हैं इंटरनेशनल दबाव, मुझे पता है कि हम बहुत बुरी तरह फंसे हैं लेकिन अब इस वक्त पर जब राष्ट्रपति शासन की जरूरत है. जवाहरलाल नेहरू ने 8 बार लगाया था, इंदिरा गांधी ने 50 बार लगाया था, मनमोहन सिंह ने 10-12 बार लगाया था तो हम किससे डर रहे हैं. इस देश को क्या ये देशद्रोही चलाएंगे. मासूमों की हत्या होगी और क्या हम धरना करेंगे. मेरी अपनी सरकार को यह कहना चाहूंगी कि जल्द से जल्द ये सब रोकिए और कड़ा कदम उठाइए.''

यह भी पढ़ें- शादी के 27 सालों के बाद पत्नी से अलग हो रहे हैं बिल गेट्स, ट्वीटर पर तलाक का ऐलान

यह भी पढ़ें- दिल्ली में कोविड-19 से रिकॉर्ड 448 मौत, 24 घंटों में आए 20 हजार से कम नए मामले