कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने शुक्रवार को बताया कि राज्य को एक-दो दिन में COVID-19 से बचाव के वैक्सीन की 13,90,000 खुराक मिलने की उम्मीद है और 11 जनवरी से टीकाकरण की शुरुआत हो सकती है.

उन्होंने कहा, ‘‘कर्नाटक के लिए अच्छी खबर यह है कि मुझे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से सूचना मिली है कि कल या परसों कोरोना वायरस से बचाव के टीके की 13,90,000 खुराक राज्य को मिल जाएगी. यह हमारे लिए बहुत खुशी की खबर है.’’

यहां एक निजी अस्पताल का दौरा करने के बाद, जहां टीकाकरण का पूर्वाभ्यास चल रहा है सुधाकर ने पत्रकारों से कहा कि सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होगा.

SBI बैंक ने होम लोन Interest Rate में की कटौती, प्रोसेसिंग फीस भी माफ

उन्होंने कहा, ‘‘ आज की तारीख में कर्नाटक में 6.30 लाख चिकित्सा पेशेवर पंजीकृत हैं. जो छूट गए हैं उनमें कुछ मेडिकल या डेंटल कॉलेज के हैं,हमने उनसे पंजीकरण कराने का अनुरोध किया है.’’

सुधाकर ने कहा, ‘‘ स्वास्थ्य कर्मियों के बाद उनका टीकाकरण होगा जो बीमारियों से ग्रस्त हैं, जिनकी उम्र 60 साल से ऊपर है और जो पुलिस और राजस्व विभाग में कार्यरत हैं व महामारी के खिलाफ काम कर रहे हैं.’’

बाद में चिक्कबल्लापुर में सुधाकर ने कहा कि टीका मिलने के बाद उसे सभी जिलों में वितरित किया जाएगा और संभवत: सोमवार से ही टीकाकरण की शुरुआत हो जाएगी.

जानें, 10 प्राइवेट बैंकों के सेविंग अकाउंट का Interest Rate, कौन सा Bank दे रहा 7 प्रतिशत ब्याज?

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को पूरे कर्नाटक में 263 अलग-अलग स्वास्थ्य केंद्रों पर टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जा रहा है. इनमें 24 जिले के 20 मेडिकल कॉलेज, 43 तालुका अस्पताल, 31 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, 87 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, 30 शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं 28 निजी अस्पताल शामिल हैं.