अगर आपके गुर्दे में पथरी है, तो आपको एक विशेष आहार योजना का पालन करने की आवश्यकता हो सकती है. सबसे पहले, आपका स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर यह पता लगाने के लिए रक्त और मूत्र परीक्षण चलाएगा कि आपको किस प्रकार के जोखिम कारक हो सकते हैं. फिर आपका स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर आपको गुर्दे की पथरी को वापस आने से रोकने के लिए आवश्यक आहार परिवर्तन और चिकित्सा उपचार के बारे में बताएगा.एक पंजीकृत गुर्दा आहार विशेषज्ञ आपकी आहार योजना और जीवन शैली में आवश्यक परिवर्तन करने में आपकी सहायता कर सकता है.

यह भी पढ़ें: मच्छर काटने की वजह जान हैरान हो जाएंगे आप, जानें कैसे करें सही इलाज

किडनी स्टोन क्या है?

किडनी स्टोन एक कठोर द्रव्यमान होता है जो मूत्र में क्रिस्टल से बनता है. अधिकांश लोगों के लिए, मूत्र में प्राकृतिक रसायन पथरी को बनने और समस्या पैदा करने से रोकते हैं.

क्या सभी किडनी स्टोन एक जैसे होते हैं?

नहीं. सबसे आम प्रकार के गुर्दे की पथरी कैल्शियम की पथरी होती है जिसके बाद यूरिक एसिड की पथरी होती है. पथरी के प्रकार के आधार पर आहार में परिवर्तन और चिकित्सा उपचार को अलग-अलग किया जाता है, ताकि उन्हें वापस आने से रोका जा सके.

यह भी पढ़ें: Weight Loss: पेट की चर्बी कम करने के लिए करें ये 1 काम, कुछ दिनों में दिखेगा असर

जिन लोगों को पथरी है उन्हे इन 3 चीज़ों से करना चाहिए परहेज

हाई फास्फोरस वाली चीजें

हाई फास्फोरस वाली चीजें जैसे फास्ट फूड, टॉफी, जंक फूड, चिप्स, कैन सूप, चॉकलेट, नट्स, कार्बोनेटेड ड्रिंक्स, मक्खन, सोया, मूंगफली, काजू, किशमिश, मुनक्का जैसी चीजों के सेवन से बिल्कुल परहेज करना चाहिए.

महीन बीज वाली सब्जियां और फल

किडनी के स्टोन की दिक्कत होने पर आपको ऐसी सब्जियों और फलों का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए, जिनमें महीन बीज होते हों. इनमें टमाटर, बैगन, टैंटी, रसभरी, ककड़ी, खीरा, अमरूद समेत कई और चीजें शामिल हैं. इनके सेवन से दिक्कत और भी ज्यादा बढ़ सकती है.

यह भी पढ़ें: Health Tips: भूलकर भी सोने से पहले नहीं खाएं ये 5 चीजें, हो सकता है भारी नुकसान

ज्यादा नमक वाली चीजें

किडनी में स्टोन की समस्या होने पर नमक का सेवन कम करना चाहिए. डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ, चाइनीज, मैक्सिकन फ़ूड का सेवन भी नहीं करना चाहिए क्योंकि इनमें काफी मात्रा में नमक होता है.

यह भी पढ़ें:उबले खाने के होते हैं कई फायदे, जानें किन बीमारियों से मिलता है निजात

नोटः ये जानकारी एक सामान्य सुझाव है. इसे किसी तरह के मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें. आप इसके लिए अपने डॉक्टरों से सलाह जरूर लें.