पूरे देश में भगवान श्रीकृष्ण जंयती (Krishna Janmashtami) मनाया जा रहा है. ये त्योहार हर साल भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को जन्माष्टमी का त्योहार मनाया जाता है. इस बार 30 अगस्त यानी आज श्रद्धालु धुम-धाम से जन्माष्टमी का त्योहार मना रहे हैं. इस दिन लोग भगवान श्रीकृष्ण के आशीर्वाद के लिए व्रत रखते हैं और मध्य रात्री के बाद पूजा कर अपना व्रत खोलते हैं.

भगवान श्रीकृष्ण को मोर पंख अति प्रिय है. वह इसे अपने सिर पर धारण करते हैं. इसलिए इस दिन मोर पंख का खास महत्व होता है. मोर पंख के कुछ उपाय ऐसे हैं जो आपकी परेशानियों को दूर कर सकता है.

Janmashtami 2021: इस शुभ मुहूर्त में ही करें जन्माष्टमी की पूजा, बन रहा है खास संयोग

दूर होते हैं वास्तुदोष

ऐसा माना जाता है कि मोर पंख में सभी देवी और देवताओं का वास होता है. ऐसे में अगर आप अपने घर में वास्तु से जुड़ा कोई संकट दूर करना चाहते हैं तो जन्माष्टमी के दिन मोर पंख घर लाएं और पूजा के बाद उसे पूर्व दिशा में लगा दें. इससे घर के वास्तुदोष दूर हो जाते हैं.

Janmashtami 2021: खीरे के बिना क्यों अधूरा होता है श्रीकृष्ण का जन्म? जानें मान्यता

धन में वृद्धि

अगर आप मेहनत करते और इसके बाद भी उसका फल आपको नहीं मिलता है. इसके साथ ही घर में आर्थिक संकट गहरा रहा है तो आप जन्माष्टमी के दिन मोर पंख का उपाय कर सकते हैं. आप 5 मोर पंख भगवान कृष्ण की प्रतिमा के पास रखे और इनका पूजन करें. मोर पंख को 21 दिनों तक पूजा स्थल पर ही रहने दें. इसके बाद 21वें दिन मोर पंख को उस स्थान पर रखे जहां धन रखा जाता है. इससे आपकी आर्थिक संकट दूर होगी.

Janmashtami 2021: आधी रात को हुआ था भगवान कृष्ण का जन्म, महत्वपूर्ण थी इसकी वजह

दांपत्य जीवन की समस्या होगी दूर

अगर आपके दांपत्य जीवन में किसी तरह की समस्या है, पति और पत्नी के बीच आए दिन झगड़े होते रहते हैं, तो जन्माष्टमी के दिन अपने बेडरूम में पूर्व या उत्तर दिशा में दो मोरपंखों को एक साथ दीवार पर लगाएं. इससे दांपत्य जीवन से जुड़ी समस्याओं का अंत होगा और रिश्तों में मधुरता आएगी.

पूरे विश्व में एक मात्र इस जगह है श्रीकृष्ण के परम मित्र 'सुदामा' का मंदिर

#Janmashtami #Festival #Religious