(अदिति खन्ना)

लंदन, 23 मई (भाषा) ब्रिटेन की गृहमंत्री प्रीति पटेल अमेरिका की तरह देश में डिजिटल वीजा प्रणाली का उद्घाटन करेंगी जिससे देश की सीमा में आने वाले और यहां से जाने वाले प्रवासियों की सटीक गिनती हो सकेगी। ब्रिटिश मीडिया ने रविवार को यह खबर दी।

भारतीय मूल की वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री ब्रिटिश आव्रजन नीति में सोमवार को ‘व्यापक बदलाव’ करने वाली हैं जिससे देश में आने वालों के लिए ‘सुचारु’ व्यवस्था बन सके।

ब्रेक्जिट के बाद होने वाले बदलावों में सीमा का डिजिटल तरीके से प्रबंधन भी शामिल है। सरकार का कहना है कि इससे कारोबार की आवाजाही आसान होगी और पहली बार ब्रिटेन आने वाले और यहां से जाने वालों की सटीक गिनती होगी।

‘ऑव्जर्वर’ ने पटेल को उद्धृत करते हुए लिखा, ‘‘हमारी पूर्णत: डिजिटल सीमा देश में आने और जाने वालों की गिनती करने की क्षमता देगी, ब्रिटेन कौन आ रहा है, इस पर नियंत्रण होगा।’’

ब्रिटेन के गृह मंत्रालय को उम्मीद है कि वर्ष 2025 तक ब्रिटेन में प्रवेश प्रक्रिया पूर्णत: डिजिटल होगी।

इसका अभिप्राय है कि ब्रिटेन बिना वीजा या आप्रवासी दर्जा वाले लोगों को अमेरिकी प्रणाली की तरह इलेक्ट्रॉनिक ट्रैवल ऑथोराइजेशन (ईटीए) के लिए आवेदन करना होगा। इस व्यवस्था से साल में तीन करोड़ आवेदन निपटाए जाने की उम्मीद है।