उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में कोरोना कर्फ्यू को खत्म कर दिया गया है. यहां सभी जिलों में अब सक्रिय मामले 600 से कम हो गए हैं, जिसके बाद यहां लगाएगी पाबंदियों से राहत दी गई है. हालांकि, सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा. इसके तहत शाम सात बजे से सुबह सात बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा. वहीं, वीकेंड लॉकडाउन का भी आदेश दिया गया है.

उत्तर प्रदेश सरकार जिलों में कोरोना कर्फ्यू को खत्म करने के लिए एक मानक तय किया था, जिसके तहत जिन जिलों में 600 से कम कोरोना के संक्रिय मामले होंगे वहां कोरोना कर्फ्यू खत्म कर दिया जाएगा. ऐसे में अब सभी 75 जिलों में कोरोना के मामले 600 से कम हो गए है. राज्य में रिकवरी रेट 97.9 प्रतिशत है. वहीं, कोरोना पाबंदियों को हटाने के बाद सरकार ने नई गाइडलाइन भी जारी की है.

यह भी पढ़ेंः 22 मरीजों की मौत पर सफाई देते हुए डॉ अरिजंय जैन का जारी हुआ Video, जानें क्या बोले

यह भी पढ़ेंः कोरोना की तीसरी लहर आई तो क्या बच्चों में ज्यादा गंभीर संक्रमण होगा?

यूपी सरकार की गाइडलाइन

- कोरोना रोकथाम के अभियान से जुड़े फ्रंट लाइन सरकारी कार्यालयों में पूर्ण उपस्थिति होगी.

- अन्य कार्यालयों में अधिकतम 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ खोले जाएंगे.

- प्राइवेट कंपनियों में वर्क फ्रॉम होम की व्यवस्था को प्रोत्साहित करने को कहा गया है.

- सब्जी मंडियां खुलेंगी लेकिन घनी आबादी वाली सब्जी मंडियाों को खुले स्थानों पर प्रशासन खुलवाएगी.

- रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट और रोडवेज बसों में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा और स्कीनिंग-एंटीजन जांच की जाएंगी.

- स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थान अभी बंद रहेंगे.

- शिक्षकों और कर्मचारियों को प्रशासनिक कार्य के लिए स्कूल आने की अनुमति होगी.

- धार्मिक स्थलों पर एक स्थान पर पांच से अधिक श्रद्धालुओं के रहने की मनाही होगी.

- उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बसों में निर्धरित सीट क्षमता के साथ संचालन की अनुमति होगी.

- सिनेमा घर, जिम, स्वीमिंग पूल, कल्ब और मॉल्स अभी बंद रहेंगे.

- शव यात्रा में अधिकतम 20 लोगों को शामिल होने की अनुमति होगी.

- खुले स्थानों में कार्यक्रम में 25 लोग आमंत्रित हो सकते हैं. जिन्हें कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना होगा.

यह भी पढ़ेंः क्या पहलवान सुशील कुमार से ओलंपिक पदक छीना जा सकता है?