नयी दिल्ली/चंडीगढ़, 23 मई (भाषा) दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और पुडुचेरी में रविवार को लॉकडाउन बढ़ाया गया, जबकि कई राज्यों में कोविड-19 के कारण पहले से ही मई के अंत तक के लिए पाबंदियां लगी हुई हैं ताकि महामारी की दूसरी लहर के दौरान संक्रमण को रोका जा सके।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में एक और हफ्ते के लिए लॉकडाउन बढ़ाने की रविवार को घोषणा करते हुए कहा कि अगर कोविड-19 के मामलों में कमी जारी रहती है तो 31 मई से चरणबद्ध तरीके से ‘अनलॉक’ की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण नियंत्रण के लिये मंत्रिमंडल और विशेषज्ञों की सिफारिश पर राज्य सरकार ने रविवार को राज्य में लॉकडाउन की अवधि में 15 दिन का विस्तार करते हुए इसे आठ जून तक कर दिया है। सरकार ने कहा कि जिन जिलों में संक्रमण की स्थिति में काफी सुधार हुआ है वहां एक जून से व्यावसायिक गतिविधियों की छूट दी जा सकती है।

हरियाणा सरकार ने राज्य में लागू कोरोना वायरस लॉकडाउन का 31 मई तक विस्तार कर दिया है। राज्य के मुख्य सचिव विजयवर्धन ने एक आदेश में कहा कि पहले 24 मई तक लागू लॉकडाउन को एक सप्ताह के लिए बढ़ा कर 31 मई सुबह पांच बजे तक के लिए किया जाता है।

केजरीवाल ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पिछले 24 घंटे में दिल्ली में करीब 1,600 और लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए तथा संक्रमण दर गिरकर 2.5 फीसदी रह गई।

केजरीवाल ने कहा, ‘‘अगर अगले एक हफ्ते तक संक्रमण के मामलों में गिरावट जारी रहती है और लोग सख्त अनुशासन के साथ कोविड के खिलाफ एहतियात बरतते हैं, जैसा कि उन्होंने अभी तक किया, तो हम 31 मई से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू करेंगे।’’

हरियाणा के मुख्य सचिव विजयवर्धन ने कहा कि कुछ छूट भी दी गई है जैसे मुहल्ले की दुकानों को दिन में भी खोलने की अनुमति होगी। अन्य दुकानें सुबह सात बजे से दोपहर 12 बजे तक सम-विषम (ऑड-इवन) के आधार पर खोली जा सकेंगी।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में लागू कोरोना कर्फ्यू के प्रतिबंधों में आगामी एक जून से धीरे-धीरे ढील दिए जाने की शनिवार को घोषणा की थी।

प्रदेश में कोरोना महामारी की स्थिति की समीक्षा बैठक में शनिवार को मुख्यमंत्री चौहान ने कहा था, ‘‘हमारा लक्ष्य 31 मई तक हमारे राज्य को कोविड-19 से मुक्त करना है। कोरोना संक्रमण के कारण लगाए गये कोरोना कर्फ्यू को हमें धीरे-धीरे अनलॉक करना होगा। दुनिया को आगे बढ़ना है लेकिन हमें इस तरह से अनलॉक करना है कि कोविड-19 फिर से नहीं फैले।’’

बहरहाल, ओडिशा में कोविड-19 के अब तक के सर्वाधिक 12,852 नए मामले आने से रविवार को कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 6,92,382 हो गई। पिछले दो सप्ताह से लागू लॉकडाउन के बाद भी यहां मामलों में वृद्धि हुई है।

स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य में संक्रमण की वजह से 28 मरीजों की मौत हुई है, जो कि एक दिन में सबसे ज्यादा है। इसके साथ ही कुल मृतकों की संख्या बढ़कर 2,484 हो गई। ओडिशा में एक जून तक लॉकडाउन लगा हुआ है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने भी शनिवार को 31 मई की सुबह सात बजे तक कोरोना कर्फ्यू में विस्तार किया।

दक्षिणी राज्यों में तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक और तेलंगाना ने अपने यहां लॉकडाउन बढ़ाया है जबकि आंध्रप्रदेश में कर्फ्यू जारी रहेगा।

पुडुचेरी की सरकार ने भी रविवार को 31 मई तक लॉकडाउन जारी रखने की घोषणा की क्योंकि केंद्र शासित प्रदेश में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी जारी है।

पूर्वोत्तर राज्यों में मिजोरम सरकार ने आईजल और अन्य जिला मुख्यालयों में पूर्ण लॉकडाउन का विस्तार 31 मई तक किया है। नगालैंड, मेघालय और अरूणाचल प्रदेश में पाबंदियां इस महीने के अंत तक बढ़ाई गई हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा रविवार को जारी आंकड़े के मुताबिक भारत में कोरोना वायरस के रोजाना मामलों में बढ़ोतरी लगातार सातवें दिन तीन लाख से कम रही और एक दिन में 2.4 लाख नए मामले दर्ज किए गए।

नए मामलों के साथ भारत में कोविड-19 के मामलों की कुल संख्या बढ़कर 2,65,30,132 हो गई है।

मंत्रालय की तरफ से सुबह आठ बजे जारी आंकड़े के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 3741 लोगों की मौत होने के साथ मृतकों की कुल संख्या 2,99,266 हो गई है।

उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 28,05,399 रह गई है जो कुल संक्रमण का 10.57 फीसदी है जबकि कोविड-19 से उबरने की राष्ट्रीय दर 88.30 फीसदी है।

3741 मृतकों में 682 महाराष्ट्र के, 448 तमिलनाडु के, 451 कर्नाटक के, 182 दिल्ली से, 218 उत्तर प्रदेश से, 201 पंजाब से, पश्चिम बंगाल के 154, केरल के 176, राजस्थान के 115, उत्तराखंड के 134, हरियाणा के 98, आंध्रप्रदेश से 118 और छत्तीसगढ़ के 103 व्यक्ति शामिल हैं।

राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा कोरोना वायरस के कारण जारी पाबंदियां निम्नवत हैं --

दिल्ली में 19 अप्रैल से 31 मई तक लॉकडाउन है।

हरियाणा में तीन मई से लॉकडाउन जारी था जिसे बढ़ाकर 31 मई तक किया गया है।

चंडीगढ़ प्रशासन ने सप्ताहांत कर्फ्यू 25 मई तक बढ़ा दिया है।

पंजाब में कोविड-19 से जुड़े सप्ताहांत कर्फ्यू एवं रात्रि कर्फ्यू को 31 मई तक बढ़ा दिया गया है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के कारण आंशिक कर्फ्यू को 31 मई की सुबह सात बजे तक बढ़ाया गया है।

बिहार में चार मई को 15 मई तक के लिए लॉकडाउन लगाया गया था जिसे बढ़ाकर 25 मई तक किया गया है।

झारखंड में लॉकडाउन जैसी पाबंदियों को 27 मई तक बढ़ाया गया है।

ओडिशा में एक जून तक लॉकडाउन है।

पश्चिम बंगाल ने 16 मई से 30 मई तक पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है।

राजस्थान में आठ जून तक लॉकडाउन है।

मध्यप्रदेश ने कोरोना कर्फ्यू को राज्य के सभी 52 जिलों में 31 मई तक अलग-अलग समय के लिए बढ़ाया है।

गुजरात में 28 मई तक रात्रि कर्फ्यू लगाया गया है। बहरहाल, दिन के समय पाबंदियों में ढील दी गई है और सुबह नौ बजे से अपराह्न तीन बजे तक दुकानों, शॉपिंग मॉल, व्यावसायिक प्रतिष्ठान और अन्य व्यावसायिक गतविधियों को इजाजत है।

छत्तीसगढ़ में 31 मई तक लॉकडाउन है।

केरल में पूर्ण लॉकडाउन 23 मई को समाप्त हो रहा था जिसे 30 मई तक बढ़ाया गया है।

तमिलनाडु में लॉकडाउन 24 मई को खत्म हो रहा था जिसे एक और हफ्ते बढ़ाया गया है।

पुडुचेरी ने 31 मई तक लॉकडाउन लगाया है।

कर्नाटक ने 24 मई से सात जून तक लॉकडाउन में विस्तार किया है।

तेलंगाना में 30 मई तक लॉकडाउन है।

आंध्रप्रदेश ने 31 मई तक कर्फ्यू का विस्तार किया है।

गोवा में 31 मई तक कर्फ्यू लगाए जाने की खबर है।

महाराष्ट्र में लॉकडाउन की तरह पाबंदयों को एक जून तक बढ़ाया गया है।

असम में सभी कार्यालय,धार्मिक स्थल और साप्ताहिक बाजार शहरी एवं कस्बाई इलाकों में 12 मई से 15 दिनों के लिए बंद करने के आदेश दिए गए थे।

नगालैंड में लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ाया गया है।

मिजोरम में लॉकडाउन 31 मई तक आइजल एवं अन्य जिलाा मुख्यालयों में बढ़ाया गया है।

अरूणाचल प्रदेश के कई इलाकों में 31 मई तक पूर्ण लॉकडाउन है।

मणिपुर के सात जिलों में 28 मई तक कर्फ्यू है।

मेघालय के सबसे बुरी तरह प्रभावित ईस्ट खासी हिल्स जिले में 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाया गया है।

त्रिपुरा में रात्रि कर्फ्यू 19 मई से 26 मई तक लगाया गया है।

सिक्किम सरकार ने 17 मई से 24 मई तक पूर्ण लॉकडाउन लगाया है।

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने 31 मई तक कर्फ्यू बढ़ाया है।

उत्तराखंड में 25 मई की सुबह तक कर्फ्यू है।

हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के कारण 26 मई तक कर्फ्यू लगाया गया है।