राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले काफी कम हो गए हैं. लेकिन सरकार अभी भी एहतियात बरत रही है. इस वजह से दिल्ली में लॉकडाउन को 7 जून की सुबह 5 बजे तक के लिए बढ़ा दिया गया है. हालांकि, अनलॉक प्रक्रिया के तहत दो चीजों में छूट दी गई है.

यह भी पढ़ेंः बाबा रामदेव के खिलाफ देशव्यापी विरोध प्रदर्शन, 1 जून को डॉक्टर मनाएंगे 'काला दिवस'

दिल्ली सरकार ने अपने आदेश में कहा है कि, अनलॉक की प्रक्रिया के तहत इंडस्ट्रियल एरिया में चार दिवारी या परिसर में मैन्युफैक्चरिंग और प्रोडक्शन यूनिट को चलाने की इजाजत होगी. साथ ही वर्क साइट्स के अंदर कंस्ट्रक्शन का काम की जा सकेगी. हालांकि, इसके लिए शर्तें भी जारी रखी गई है.

यह भी पढ़ेंः PM की घोषणा, कोरोना से अनाथ बच्चों को पीएम केयर्स फंड से मिलेगी सहायता

यह भी पढ़ेंः पुलवामा हमले में शहीद मेजर विभूति की पत्नी निकिता Indian Army में बनी लेफ्टिनेंट

सरकार ने ये शर्तें रखी

दिल्ली सरकार ने आदेश में कुछ शर्तें रखी है जिसमें कहा गया है कि, थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना जरूरी होगा. वर्क ऑवर्स अलग-अलग शिफ्ट में होंगे, जिससे की भीड़ न हो. सभी लेबर्स और वर्कर्स को कोविड अपप्रोप्रियेट बिहेवियर जैसे मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग, बरतना अनिवार्य होगा. वर्कर्स को ई-पास के जरिए मूवमेंट की इजाजत होगी. मालिक, एम्प्लॉयर्स, कॉन्ट्रैक्टर्स पोर्टल पर डिटेल्स देकर अपने वर्कर्स और कर्मचारियों के लिए ई-पास आवेदन कर सकेंगे.

यह भी पढ़ेंः पुलवामा हमले में शहीद मेजर विभूति की पत्नी निकिता Indian Army में बनी लेफ्टिनेंट

आपको बता दें, सीएम अरविंद केजरीवाल ने हाल ही में कहा था कि दिल्ली को अनलॉक करने का वक्त आ गया है लेकिन इसे आर्थिक मोर्चे को ध्यान में रख कर किया जाएगा. पहले चरण में मजदूरों और गरीबों का ख्याल रखते हुए फैक्ट्री और कंस्ट्रक्शन की गतिविधियां खोली जाएगी. इसके बाद आगे लोगों और विशेषज्ञों से विचार कर अनलॉक की प्रक्रिया होगी.

दिल्ली में शनिवार को 24 घंटे में 956 कोरोना के नए मामले सामने आए वहीं 122 लोगों की मौत हो गई.

यह भी पढ़ेंः कौन है शिल्पा और रवीना के पति? एक ही शख्स से मिला था दोनों को प्यार में धोखा

यह भी पढ़ेंः Yuvika Chaudhary की बढ़ी मुश्किलें, हो सकती है गिरफ्तारी