देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या पिछले कई दिनों से 4 लाख से ज्यादा आ रही है.  पिछले दो दिनों से चार हजार से ज्यादा लोगों की मौतें भी हो रही हैं, ऐसे में राज्य सरकारों की चिंता बढ़ रही हैं और जहां से केस ज्यादा आ रहे हैं वहां की सकारें लॉकडाउन लगाने के फैसले ले रही है. सुबह केरल में लॉकडाउन लगा और अब कर्नाटक और गोवा में भी 14 दिनों का लॉकडाउन लगना है.

यह भी पढ़ें- करीना कपूर खान ने शेयर की दूसरे बेटे की पहली तस्वीर, छोटे भाई को लेकर तैमूर हुए खुश

यह भी पढ़ें- केरल में 16 मई तक संपूर्णं लॉकडाउन, जानें सरकार ने क्या दी छूट

केंद्र सरकार राज्यों को अपने हिसाब से कोरोना से निपटने के अधिकार दे चुकी हैं. इसके बाद से कोई राज्य कर्फ्यू तो कोई लॉकडाउन लगाकर कोविड की चेन तोड़ने में जुटी है. इस दौरान हर किसी को जरूरत की सभी चीजें उपलब्द हो सकेंगी, इसमें दवाईयां, डेली नीड्स ,सब्जी, फल जैसी चीजें शामिल हैं. साथ ही ई-पास दिखाकर आप अपने निजी वाहन से जरूरी काम से आ-जा सकते हैं.

बता दें, कर्नाटक में 24 घंटों में आए 47,563 लोग संक्रमित हुए हैं जिस दौरान 482 लोगों की मौत हुई हैं. यहां कोरोना के एक्टिव मामले 54,8841 हो चुकी है. वहीं गोवा में शनिवार को 24 घंटों में 3751 नए मरीज सामने आए हैं, जबकि 55 लोगों की वायरस से मौत हुई है.

यह भी पढ़ें- देश के 13 राज्यों के कोरोना के नए केस का आकड़ां, डरावनी है मौत की संख्या

यह भी पढ़ें- DRDO की 2-DG कोरोना की दवा को DCGI की मिली मंजूरी, जानें इसके बारे में सब कुछ

यह भी पढ़ेंः बिहार में सरकार ने तय किया CT-SCAN का शुल्क, जानें क्या है रेट