मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आज शाम 6 बजे से प्रदेश के 50 जिलों में अगले 60 घंटों के लिए लॉकडाउन लगा दिया गया है. बेकाबू होते कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने यह फैसला किया है और भोपाल सहित बैतूल, कटनी, रतलाम और खरगोन में आज से अगले सात दिनों तक पूरी तरह से लॉकडाउन रहेगा.

यह भी पढ़ें- Delhi, Noida के बाद अब Ghaziabad में भी लगा Night Curfew, जानें कर्फ्यू का समय

स्वास्थ विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, गुरुवार रात तक प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमितों के नये मामले 4,324 सामने आए. वहीं प्रदेश में कुल 27 लोगों की मौत हुई. प्रदेश में सबसे ज्यादा केस इंदौर (898) और भोपाल (657) में निकले है. इसी के कारण भोपाल कलेक्टर ने राजधानी के सबसे ज्यादा संक्रमित क्षेत्र कोलार-शाहपुरा में 9 दिन का पूर्णं लॉकडाउन लगा दिया गया है. कलेक्टर अविनाश लावानिया ने बताया कि कलेक्टर के मुताबिक शहर के कुल संक्रमितों में 40% यहीं से हैं. इनकी संख्या 1800 से ज्यादा हैं. इसलिए यहां सख्ती की गई है.

यह भी पढ़ें- कभी टीवी के अमिताभ बच्चन कहलाए जाने पर चिढ़ते थे शेखर सुमन, अब करते हैं पछतावा

वहीं अगर सरकारी आंकड़ों की बात करें तो मध्य प्रदेश में सिर्फ 27 मौतों का आंकड़ा बताया गया है. जबकि भोपाल में ही पहली बार 8 माह की बच्ची सहित 41 संक्रमितों का अंतिम संस्कार गुरुवार को हुआ. इनमें से 13 शव भोपाल के और 18 बाहर के थे. ये प्रदेश में एक दिन में किसी एक शहर में कोविड मरीजों के शवों के अंतिम संस्कार का सबसे बड़ा आंकड़ा है.

यह भी पढ़ें- कोविड-19 पर राजनीति करने वालों को पीएम मोदी ने दी नसीहत, बोले- पहले करें जनता की सेवा