दुबई, 28 अप्रैल (भाषा) अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के सबसे अनुभवी मैच रैफरी रंजन मदुगले ने कैंडी के पालेकल अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम की पिच को ‘औसत से खराब’ रेटिंग दी है। श्रीलंका और बांग्लदेश के बीच हाल में टेस्ट मैच की मेजबानी करने वाले इस स्टेडियम में मुकाबले के दौरान लगभग 1300 रन बने।

आईसीसी की विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘आईसीसी की पिच एवं आउटफील्ड निगरानी प्रक्रिया के तहत इस स्थल को एक डिमेरिट अंक मिला है।’’

बांग्लादेश ने पहली पारी सात विकेट पर 541 रन बनाने के बाद घोषित की थी और फिर दूसरी पारी में दो विकेट पर 100 रन बनाए थे। श्रीलंका को सिर्फ एक बार बल्लेबाजी का मौका मिला और मेजबान टीम ने पहली पारी आठ विकेट पर 648 रन बनाकर घोषित की थी जिसमें कप्तान दिमुथ करूणारत्ने का करियर का सर्वश्रेष्ठ दोहरा शतक भी शामिल था।

श्रीलंका के पूर्व कप्तान मदुगले ने कहा, ‘‘पांच दिन के दौरान पिच की प्रकृति में बामुश्किल बदलाव आया। खेल के आगे बढ़ने के साथ गेंद और बल्ले के बीच संतुलन नहीं बदला।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पिच पूरे मैच के दौरान बल्लेबाजी के अनुकूल रही जिससे मैच में 17 विकेट के नुकसान पर 75.82 के औसत से 1289 रन बने जो काफी अधिक औसत है। इसलिए आईसीसी के दिशानिर्देशों के अनुसार मैच पिच को औसत से खराब रेटिंग देता हूं। ’’ पिच और आउटफील्ड निगरानी के संशोधित नियमों के अनुसार औसत से खराब रेटिंग पाने वाली पिच के आयोजन स्थल को एक डिमेरिट अंक दिया जाता है जबकि ‘खराब’ और ‘अनफिट’ पिच वाले स्थलों को क्रमश: तीन और पांच डिमेरिट अंक दिए जाते हैं।

डिमेरिट अंक पांच साल तक सक्रिय रहते हैं। अगर किसी स्थल के पांच या इससे अधिक डिमेरिट अंक हो जाते हैं तो उसे 12 महीने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की मेजबानी से निलंबित कर दिया जाता है। अगर 10 डिमेरिट अंक हो जाते हैं तो स्थल को 24 महीने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की मेजबानी से निलंबित कर दिया जाता है।

भाषा सुधीर मोना

मोना