हरिद्वार कुंभ से भोपाल लौटे गुफा मंदिर के महंत चंद्रमादास त्यागी की कोरोना से मौत हो गई. आपको बता दे कि पिछले 14 दिनों तक पालीवाल अस्पताल में वेंटिलेटर पर रहे 42 वर्षीय महंत हरिद्वार कुंभ से लौटने के बाद कोरोना की चपेट में आ गए थे. उनके फेफड़े संक्रमण से शत-प्रतिशत खराब हो गए थे. पालीवाल अस्पताल के डॉ. जेपी पालीवाल ने इस खबर की पुष्टि की है.

यह भी पढ़ेंः सिर्फ एक ट्रिक और आप घर पर रख सकते हैं अपना ऑक्सीजन लेवल बैलेंस, जानें

वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर कहा कि भोपाल के गुफा मंदिर के महंत श्री चंद्रमादास त्यागी जी के निधन के समाचार से दुःख पहुँचा. मैं उनके चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित करता हूँ और ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि वे दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें व परिजनों और अनुयायियों को यह दुःख सहने की शक्ति दें. ॐ शांति

यह भी पढ़ेंः MP में एक और कलेक्टर कोरोना पॉजिटिव, SDM की कोरोना से मौत

गौरतलब है कि महंत चन्द्रमादास त्यागी कुंभ स्नान करने हरिद्वार गए थे. बड़ी तादाद में उनके भक्त भी उनके साथ कुंभ में पहुंचे थे. इसी दौरान हरिद्वार में उनकी तबीयत बिगड़ गई, लेकिन उन्हें तत्काल किसी अस्पताल में इलाज के लिए जगह नहीं मिल पाई और वे ट्रेन द्वारा भोपाल आ गए थे. यहां पहुंचने के बाद उनकी स्थिति देखकर इलाज के लिए उन्हें तत्काल पालीवाल अस्पताल में भर्ती किया गया था, जहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था.

करीब 14 दिनों के अथक प्रयासों के बाद भी डॉक्टर उनको बचा पाने में सफल नहीं हो पाए. शनिवार को महंत त्यागी ने देह त्याग दिया. इधर महंत के साथ हरिद्वार गये महंत जी के भक्तों को भी जिला प्रशासन ने होम आइसोशलेन में रखा है.

यह भी पढ़ेंः घर लेने वालों के लिए अच्छी खबर, SBI का Home Lone अब और हुआ सस्ता