मुंबई, 23 मई (भाषा) देश में कोविड-19 महामारी की मौजूदा भयावह लहर और विशेषज्ञों द्वारा तीसरी लहर की चेतावनी के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लोगों से बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर अधिक सतर्क रहने की अपील करते हुए रविवार को कहा कि बच्चों में कोई भी लक्षण आने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

ठाकरे ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए राज्य के विभिन्न हिस्सों के करीब 6300 बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टरों को संबोधित करते हुए कहा कि रोग का तत्काल पता लगाना ही मौजूदा समय की मांग है।

उन्होंने कहा, ‘‘बच्चों में किसी भी प्रकार के लक्षण को लेकर लापरवाही न बरतें, तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।’’

मुख्यमंत्री के साथ हुई इस बैठक में बच्चों में कोविड-19 को लेकर बनाए गए कार्य दल के सदस्यों ने भी हिस्सा लिया। इसमें बच्चों में कोविड-19 के इलाज के लिए दिशा-निर्देशों पर भी चर्चा की गयी।

ठाकरे ने महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई में चिकित्सा बिरादरी के योगदान की प्रशंसा करते हुए कहा कि डॉक्टरों को बच्चों के माता-पिता से बात कर उनके भीतर मौजूद डर को निकाल विश्वास पैदा करना चाहिए।

ठाकरे ने कहा, ‘‘ बच्चों के इलाज को लेकर हमें अपने डॉक्टरों पर पूरा विश्वास है। डॉक्टरों को बच्चों के माता-पिता को उचित सलाह देनी चाहिए। कोविड-19 महामारी का खतरा अभी भी काफी बड़ा है।’’