महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के ऊपर बॉम्बे हाई कोर्ट का फैसला आने के बाद उनकी मुश्किलें और बढ़ गई हैं. बॉम्बे हाई कोर्ट ने देशमुख के खिलाफ सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं. हाई कोर्ट ने कहा कि परमबीर सिंह पर लगे सभी आरोप गंभीर हैं और आज हाई कोर्ट का जयश्री पाटिल की याचिका पर भी फैसला आया है. इसी बीच महाराष्ट्र से बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने भी एक बयान दिया है.

यह भी पढ़ें- भूमि के बाद विक्की कौशल की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई, बोले- बदकिस्मती से मैं संक्रमित हो गया

बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि, 'मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के पत्र पर जो याचिका दाखिल हुई थी उसमें जयश्री पाटिल ने भी एक केस फाइल की थी उस पर HC ने निर्णय देते हुए मामले को CBI को सौंपा है. HC ने कहा कि CBI इसकी 15 दिन में प्रारंभिक जांच करें और उसके आधार पर आगे की कार्रवाई करें.'

यह भी पढ़ें- अक्षय कुमार और गोविंदा के बाद भूमि पेडनेकर भी हुईं कोरोना संक्रमित, इंस्टाग्राम पर दी जानकारी

बता दें, मुंबई पुलिस के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के ट्रांसफर के समय उन्होंने एक चिट्ठी लिखी थी जिसमें दावा किया गया था कि अनिल देशमुख द्वारा सचिन वाज़े को मुंबई से 100 करोड़ रुपये की वसूली का टारगेट दिया गया. परमबीर सिंह ने इनके अलावा गृहमंत्री अनिल देशमुख के ऊपर कई आरोप लगा. परमबीर सिंह इस मामले में सबसे पहले सुप्रीम कोर्ट गए लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने परबीर सिंह को पहले हाईकोर्ट जाने की बात कही थी. इसके बाद परमबीर सिंह ने अनिल देशमुख के खिलाफ सख्त कदम उठाने के लिए मांग की थी.

यह भी पढ़ें- कोरोना का कहर: देश में पहली बार सामने आए 1 लाख से ज्यादा नये मामले, 478 हुई नयी मौतें

यह भी पढ़ें- अक्षय कुमार अस्पताल में हुए भर्ती, दो दिन पहले हुए थे कोरोना से संक्रमित

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश में 24 घंटों में आए 4 हजार से ज्यादा नये मामले, सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन्स