नयी दिल्ली, 25 मई (भाषा) विपक्षी नेता शरद यादव ने मंगलवार को कहा कि (कोविड-19 टीके के बारे में) गलत धारणाएं फैलायी जा रही हैं जिससे समाज के एक वर्ग में उसके प्रति दुविधा पैदा हो रही है। उन्होंने इसे ‘बिल्कुल गैर जिम्मेदाराना’ करार दिया।

लंबी बीमारी के बाद अब स्वास्थ्य लाभ ले रहे और हाल ही में कोविड-19 टीका ले चुके पूर्व केंद्रीय मंत्री ने केंद्र और राज्य सरकारों से टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाने एवं उससे संबंधित प्रक्रिया आसान बनाने की अपील की ताकि सभी पात्र नागरिकों का टीकाकरण हो सके।

कोविड-19 महामारी से हुई तबाही का जिक्र करते हुए यादव ने कहा कि टीका ही इस बीमारी का मुकाबला करने का हथियार है।

उन्होंने कहा, ‘‘ समाज के कई लोग टीका लगवाने से डरे हुए हैं। कई प्रकार की गलत धारणाएं फैलायी जा रही हैं। यह बिल्कुल गैर जिम्मेदाराना है। टीका ही एकमात्र विकल्प है। जनजागरूकता एवं टीका कोरोना को हराने में अहम हैं। ’’

यादव ने कहा कि स्वास्थ्यकर्मी, अग्रिम मोर्चा कर्मी और स्वयंसेवी संगठनों के सदस्य इस महामारी में अपनी जान जोखिम में डालकर काम करते रहे। उन्होंने सेवा के लिए इन लोगों को धन्यवाद दिया।