नयी दिल्ली, 26 मई (भाषा) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों से बात की और इस दौरान दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय और आपसी हित के क्षेत्रीय व वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की तथा साथ ही हाल ही में संपन्न हुए भारत और यूरोपीय संघ (ईयू) के नेताओं की बैठक के सकारात्मक नतीजों पर संतुष्टि जताई।

फोन पर हुई इस वार्ता के दौरान मोदी ने भारत के कोविड महामारी का मुकाबला करने में फ्रांस द्वारा प्रदान की गई सहायता के लिए उन्हें धन्यवाद दिया।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि मोदी और राष्ट्रपति मैक्रों ने इस बात पर सहमति जताई की संतुलित और व्यापक मुक्त व्यापार के लिए वार्ता बहाल करने के संबंध में हुई घोषणाएं तथा निवेश समझौता और भारत-ईयू संपर्क समझौता स्वागत योग्य कदम हैं।

बयान में कहा गया, ‘‘दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय और आपसी हित के क्षेत्रीय व वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की तथा साथ ही हाल ही में संपन्न हुए भारतीय और यूरोपीय संघ के नेताओं की बैठक के सकारात्मक नतीजों पर संतुष्टि जताई।’’

दोनों नेताओं ने हाल के वर्षों में भारत और फ्रांस के बीच रणनीतिक साझेदारी में आई गहराई और मजबूती पर संतुष्टि जताई तथा कोविड के बाद की दुनिया में साथ मिलकर काम करते रहने पर सहमति जताई।

प्रधानमंत्री मोदी ने एक बार फिर राष्ट्रपति मैक्रों को कोविड-19 से स्थिति में सुधार के बाद भारत आने का न्योता दिया।

मोदी ने पिछले दिनों यूरोपीय संघ के 27 देशों के राष्ट्राध्यक्षों के साथ डिजीटल माध्यम से बैठक की थी।