उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर खीरी में छात्रा की दुराचार के बाद हत्या की घटना में बृहस्पतिवार को अपराधियों के खिलाफ एनएसए लगाने सहित कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए. राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता का ऐलान किया.

प्रवक्ता के मुताबिक-मुख्यमंत्री ने कहा कि अपराधियों के खिलाफ एनएसए (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) के तहत भी कार्रवाई सुनिश्चित की जाए. योगी ने कहा कि राज्य सरकार प्रकरण की फास्ट ट्रैक अदालत में सुनवाई कराकर अपराधियों को जल्द से जल्द सजा दिलवाएगी.

उल्लेखनीय है कि छात्रा प्रवेश के लिए आनलाइन फार्म भरने कस्बे के साइबर कैफे गयी थी, लेकिन वापस नहीं आई. परिजन रात भर उसे खोजते रहे. मंगलवार सुबह उसका शव मिला. कपड़े अस्त-व्यस्त थे और गला रेता हुआ था. इससे पहले 15 अगस्त को ईसानगर थानाक्षेत्र के एक गांव में भी 13 साल की लड़की की बलात्कार के बाद हत्या का मामला सामने आया था. नाबालिग लडकी का शव गन्ने के खेत में मिला था.