लखनऊ, 22 मई (भाषा) ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सचिव और उत्तर प्रदेश के पूर्व अपर महाधिवक्ता जफरयाब जिलानी की सेहत में सुधार हो रहा है और वह कल (शुक्रवार) के मुकाबले बेहतर हैं।

जिलानी कोरोना वायरस से भी संक्रमित पाए गए हैं।

मेदांता अस्पताल की ओर से शनिवार को जारी बुलेटिन में कहा गया, '' आज दिनांक 22 मई को जिलानी का सीटी स्कैन ठीक आया है और उन्हें अभी आईसीयू में रखा गया है। आज उनकी स्थिति कल की तुलना में बेहतर तथा नियंत्रण में है। मेदांता हॉस्पिटल लखनऊ के न्यूरो सर्जरी विभाग और कोविड केयर टीम के डॉक्टरों की निगरानी में उनका इलाज चल रहा है।''

बुलेटिन के अनुसार, शुक्रवार को हुई प्रारंभिक जांचों और सीटी स्कैन के बाद पता चला कि उनके मस्तिष्क के अगले हिस्से में खून का थक्का जमा हुआ था। इसके बाद मेदांता लखनऊ की न्यूरो सर्जरी टीम ने सफल ऑपरेशन करके मस्तिष्क में जमे हुए खून को हटाया तथा उन्हें आईसीयू में रखा गया है।

बृहस्पतिवार को जिलानी को ब्रेन हेमरेज हो गया और उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जिलानी के पुत्र नजम जफरयाब ने 'भाषा' को बताया कि बृहस्पतिवार अपराह्न करीब साढ़े चार बजे उनके पिता दफ्तर से निकल रहे थे। इसी दौरान, बारिश के कारण फिसलन होने से वह सीढ़ियों से गिर गए और सिर में चोट आने से वह बेहोश हो गए।

उन्होंने बताया कि प्रारंभिक इलाज के दौरान डॉक्टरों ने बताया है कि जिलानी को ब्रेन हेमरेज हुआ है।

भाषा आनन्द शफीक