पूर्वी मेदिनीपुर जिले की नंदीग्राम सीट पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं, जहां मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और बीजेपी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) मैदान में हैं. शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी को 1736 वोटों से हरा दिया है.

रुझानों में बंगाल में TMC, असम-पुडुचेरी में BJP, तमिलनाडु में DMK और केरल में LDF आगे

चुनाव आयोग के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, शुभेंदु अधिकारी को 109673 वोट मिले हैं, जबकि ममता बनर्जी को 107937 मत प्राप्त हुए हैं. CPI(M) की मीनाक्षी मुखर्जी को 6198 वोट मिले हैं. शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी को 1736 वोट से चुनाव हरा दिया है.

बता दें कि विधानसभा चुनाव से पहले शुभेंदु अधिकारी TMC छोड़कर BJP में आ गए थे. 2016 के विधानसभा चुनाव में शुभेंदु अधिकारी ने नंदीग्राम से लेफ्ट के उम्मीदवार को बड़े अंतर से हराया था.

ममता बनर्जी के हारने पर उनके पास क्या विकल्प होगा?

ममता बनर्जी अभी भी मुख्यमंत्री बन सकती हैं और उन्हें संविधान के अनुच्छेद 163-164 के अनुसार छह महीने की अंदर चुनाव लड़ने और विधानसभा का सदस्य बनने की जरुरत होगी.

कोरोना की लहर: 24 घंटों में हुई दर्ज हुई अब तक की सर्वाधिक 3689 मौतें, जानें ताजा आंकड़े