67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह (National Film Awards 2019) में कंगना रानौत को फिल्म मणिकर्णिका और पंगा में उनके अभिनय के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला. वहीं मनोज बाजपेयी को 'भोंसले' और धनुष को तमिल फिल्म 'असुरन' के लिए बेस्ट एक्टर के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. इसके अलावा दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत अभिनीत 'छिछोरे' (Chhichhore) को बेस्ट हिंदी फीचर फिल्म चुना गया. 

ये भी पढ़ें: कार्तिक आर्यन ने दी अपने कोविड-19 पॉजिटिव होने की खबर, बोले- दुआ करो

तमिल एक्टर धनुष को तमिल फिल्म असुरन के लिए बेस्ट एक्टर चुना गया है. वहीं फिल्म केसरी के गाने तेरी मिट्टी के लिए बी प्राक को बेस्ट प्लेबैक सिंगर का अवार्ड मिला है. 

'मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के जीवन पर आधारित एक पीरियड ड्रामा थी, जिन्होंने 1857 में अंग्रेजों के खिलाफ भारत की आजादी की पहली लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. 

'पंगा’ एक मध्यमवर्गीय भारतीय महिला जया निगम के बारे में एक फिल्म थी, जो विश्व स्तर की कबड्डी खिलाड़ी थी. एक पत्नी और मां की भूमिका निभाते हुए जया अपने जीवन को एक नया मुकाम देने की कोशिश करती है और खेल में वापस आने का निर्णय लेती है. ये फिल्म 2020 में रिलीज़ हुई.

ये अवॉर्ड सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत काम करने वाली संस्था 'डायरेक्टरेट ऑफ फिल्म फेस्टिवल' की तरफ से दिया जाता है. इन अवॉर्ड्स की घोषणा पिछले साल मई के महीने में ही होने वाली थी लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण नहीं हो पाई. 

यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र और पंजाब के अलावा इन राज्यों में 31 मार्च तक स्कूल हुए बंद, देखें लिस्ट

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड के CM तीरथ सिंह रावत को हुआ कोरोना, रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर कही ये बात