एलोपैथी पर योग गुरु रामदेव की टिप्पणी से नाराज रेजिडेंट डॉक्टर संघों के सदस्यों ने शनिवार को कहा कि वे एक जून को देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेंगे और इसे 'काला दिवस' के रूप में मनाएंगे. पीटीआई के मुताबिक, एक बयान में, महासंघ ने रामदेव से "बिना शर्त खुले सार्वजनिक माफी" की भी मांग की है.

यह भी पढ़ेंः PM की घोषणा, कोरोना से अनाथ बच्चों को पीएम केयर्स फंड से मिलेगी सहायता

बता दें, बाबा रामदेव का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें उन्होंने कोरोनो वायरस संक्रमण के इलाज के लिए इस्तेमाल की जा रही कुछ दवाओं पर सवाल उठाया था. जिसके बाद इस पर एक विवाद छिड़ गया.

बाबा रामदेव ने कथित रूप से अपने बयान में कहा था कि, "कोविड -19 के लिए एलोपैथिक दवाएं लेने से लाखों लोग मारे गए हैं".

यह भी पढ़ेंः सीएम ममता ने कहा- 'जनता के लिए पीएम के पैर छूने को तैयार हूं, राजनीतिक प्रतिशोध बंद करें'

इस टिप्पणी का जोरदार विरोध हुआ, जिसके बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने उनसे “बेहद दुर्भाग्यपूर्ण” बयान वापस लेने को कहा. इसके बाद रामदेव को एक बयान वापस लेने के लिए मजबूर होना पड़ा.

पढ़ेंः हर्षवर्धन के पत्र के बाद बाबा रामदेव खेद जताते हुए वापस लिया अपना बयान

वहीं, एक दिन बाद, योग गुरु ने इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) को अपने ट्विटर हैंडल पर एक 'ओपन लेटर' में 25 सवाल किए, जिसमें पूछा गया कि क्या एलोपैथी में बीमारियों के लिए स्थायी राहत है.

पढ़ेंः एलोपैथिक दवाओं पर बयान वापस लेने के बाद रामदेव ने IMA से पूछे ये 25 सवाल

वहीं, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) की तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा गया है. इस पत्र में आईएमए ने योग गुरू बाबा रामदेव के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की है. इसमें आरोप लगाया गया है कि रामदेव की ओर से कोरोना टीका को लेकर भ्रामक और गलत बयान दिए गए हैं.

IMA ने कहा है कि, 'पतंजलि के मालिक रामदेव के टीकाकरण पर गलत सूचना के प्रचार को रोका जाना चाहिए. एक वीडियो में उन्होंने दावा किया कि वैक्सीन की दोनों खुराक लेने के बाद भी 10,000 डॉक्टर और लाखों लोग मारे गए हैं. उन पर देशद्रोह के आरोपों के तहत कार्रवाई की जानी चाहिए.'

यह भी पढ़ेंः पुलवामा हमले में शहीद मेजर विभूति की पत्नी निकिता Indian Army में बनी लेफ्टिनेंट

यह भी पढ़ेंः Yuvika Chaudhary की बढ़ी मुश्किलें, हो सकती है गिरफ्तारी

यह भी पढ़ेंः IPL 2021: आईपीएल-14 का बाकी मैच अब UAE में खेला जाएगा, BCCI ने दी जानकारी

यह भी पढ़ें- सुशांत सिंह राजपूत मामले को लेकर ट्वीट कर बुरे फंसे अनुभव सिन्हा

यह भी पढ़ेंः सुशांत सिंह राजपूत की पहली बरसी पर अली गोनी ने उन्हें किया याद, बोले- ये कमाया था उसने