अश्विन शुक्ल प्रतिपदा,आज से शारदीय नवरात्रि का महापर्व आरंभ हो गया है. इस बार नवरात्रि महापर्व पूरे 9 दिन के हैं. 17 अक्टूबर को घटस्थापना और 25 अक्टूबर को महा नवमी की पूजन के साथ ही तिथि गणना से सायंकाल विजयदशमी अर्थात दशहरा महापर्व मनाया जाएगा. लेकिन नवरात्र के नौ दिन आद्य शक्ति की आराधना के होंगे. इन नौ दिन में आप अपनी राशि के अनुसार मंत्रों का जाप कर मां भगवति की पूजा अर्चना कर कृपा प्राप्त कर सकते है. आइए जानते हैं ज्योतिषाचार्य पं आनंद शंकर व्यास द्वारा की इस बार नवरात्रि पर आपका राशि मंत्र कौन सा हैं.

मेष- मेष राशि वाले जातक 'मां मंगला देवी' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ महागौर्यै नम:

ओम मंगला देवी नम: का जाप करें.

वृषभ- वृषभ राशि वाले जातक 'मां कात्यायनी' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ कात्यायनी नम:

मिथुन- मिथुन राशि वाले जातक 'मां दुर्गा' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ दुर्गाये नम:

कर्क- कर्क राशि वाले जातक 'मां शिवाधात्री' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ शिवाय नम:

सिंह- सिंह राशि वाले जातक 'मां भद्रकाली' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ कालरूपिन्ये नम:

कन्या- कन्या राशि वाले जातक 'मां जयंती' की आराधना

करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ अम्बे नम: या 'ॐ जगदंबे नम:

तुला- तुला राशि वाले जातक मां के 'क्षमा रूप' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ दुर्गादेव्यै नम:

वृश्चिक- वृश्चिक राशि वाले जातक 'मां अम्बे' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ महागौर्यै नम:

ॐ अम्बिके नम:

धनु- धनु राशि वाले जातक 'मां दुर्गा' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ दूं दुर्गाये नम:

मकर- मकर राशि वाले जातक मां के 'शक्ति रूप' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ दैत्य-मर्दिनी नम:

कुंभ- कुंभ राशि वाले जातक 'मां चामुण्डा' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ महागौर्यै नम:

ॐ चामुण्डायै नम:

मीन- मीन राशि वाले जातक 'मां तुलजा' की आराधना करें.

इस मंत्र का जाप करें

ॐ तुलजा देव्यै नम: