नयी दिल्ली, 25 मई (भाषा) दिल्ली निवासी एक उद्यमी एवं पर्वतारोही ने अपनी हाल में विमोचित पुस्तक “7 लेसन्स फ्रॉम एवरेस्ट - एक्सपेडिशन लर्निंग्स फ्रॉम लाइफ एंड बिजनेस” की बिक्री से मिलने वाली राशि से एक करोड़ रुपये कोविड-19 राहत कार्य के लिए देने का लक्ष्य रखा है।

बहुत बड़े आकार की पुस्तक (कॉफी टेबल बुक) में करीब 250 पन्नों में 350 आश्चर्यचकित करने वाली तस्वीरें हैं। इस पुस्तक के लेखक आदित्य गुप्ता हैं। पुस्तक में 2019 में 50 की उम्र में एवरेस्ट पर्वत पर चढ़ाई को लेकर के अनुभवों की कहानी कही गई है और यह, ‘‘तैयारी, जुनून, दृढ़ता, मानसिक मजबूती और लचीलेपन” के गुणों को साझा करती है।

किताब की बिक्री से मिलने वाला पैसा एनजीओ चाइल्ड राइट्स एंड यू (क्राई) को दान किया जाएगा।

गुप्ता ने कहा, ‘‘यह अभियान दो खुशियां एक साथ देता है- पहला कुछ देने की खुशी और दूसरा एवरेस्ट पर्वत जैसे दक्ष शिक्षक के जरिए सीखने का आनंद। एवरेस्ट पर चढ़ना एक परिवर्तनकारी अनुभव है - न सिर्फ चढ़ने वालों के लिए बल्कि उनके लिए भी जो इस सफर को परोक्ष तौर पर साझा कर सकते हैं।”

उन्होंने कहा, “जो लोग वंचित बच्चों की मदद के लिए योगदान देने को आगे आएंगे, वे न सिर्फ शुभकामनाएं पाएंगे बल्कि विश्वस्तरीय कॉफी टेबल पुस्तक भी साथ ले जाएंगे, जो उन्हें जीवन की विभिन्न चुनौतियों से उबरने के लिए प्रेरित करेंगे। हम इसका प्रचार करना चाहते हैं ताकि क्राई की मदद के लिए और लोग हमारे साथ शामिल हों।”

द रग रिपब्लिक (गुप्ता के स्वामित्व वाला एक ब्रांड) द्वारा शुरू किए अभियान में क्राई को पुस्तक की कीमत, 4000 रुपये या उससे अधिक का दान करने वाले तथा संकट के इस समये में बच्चों की देखभाल, संरक्षण एवं शिक्षा सुनिश्चित करने वाले व्यक्ति को पुस्तक उपहार के रूप में देना शामिल होगा।

इसके अलावा पुस्तक की कीमत थोक में किताब का ऑर्डर देने वाले कॉर्पोरेट दानकर्ताओं के लिए कम होगी।

क्राई की स्थानीय निदेशक सोहा मोइत्रा ने कहा कि यह समर्थन उनके परियोजना क्षेत्रों में कई बच्चों को लाभ देगा।

भाषा

नेहा दिलीप

दिलीप