देश में महिलाओं के लिए सुरक्षित जगह कहीं नहीं है और ऐसा एक बार फिर साबित हुआ. बताया जा रहा है कि मध्यप्रदेश की एक जेल में पांच पुलिस कर्मियों द्वारा एक महिला के साथ कथित तौर पर बलात्कार का मामला दर्ज हुआ है. इसपर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने प्रदेश सरकार, राज्य पुलिस और जेल प्रमुखों को नोटिस जारी किए हैं.

एनएचआरसी ने खबरों के हवाले से एक बयान में कहा कि यह कथित घटना मई में हुई और जिला न्यायाधीश के संज्ञान में यह मामला पांच महीने के बाद आया. जेल के वार्डन में भी उच्च प्राधिकारियों को इस मामले की जानकारी देने का ‘‘साहस नहीं था’’.

एनएचआरसी ने ‘‘हवालात में पांच पुलिसकर्मियों द्वारा सामूहिक बलात्कार किए जाने के संबंध में महिला के आरोपों का स्वत: संज्ञान लेने के बाद प्रमुख सचिव, पुलिस महानिदेशक और मध्य प्रदेश के कारागारों के महानिदेशक’’ को नोटिस जारी किए. बयान के मुताबिक आयोग ने पुलिस के उप महानिरीक्षक स्तर के नीचे के अधिकारी से मामले की जांच नहीं कराने का निर्देश दिया है