बेंगलुरु, 23 मई (भाषा) छह कंटेनरों में 120 टन तरल चिकित्सीय ऑक्सीजन (एलएमओ) लेकर नौवीं ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ रविवार सुबह बेंगलुरु पहुंची।

दक्षिण पश्चिम रेलवे ने रविवार को यह जानकारी दी। रेलवे ने अभी तक कर्नाटक में 1,062.14 टन एलएमओ पहुंचाई है।

दक्षिण पश्चिम रेलवे ने एक विज्ञप्ति में कहा, ‘‘नौवीं ऑक्सीजन एक्सप्रेस आज (23 मई को) सुबह साढ़े सात बजे आईसीडी व्हाइटफील्ड पहुंची। यह ट्रेन 21 मई को रात 11 बजकर 35 मिनट पर झारखंड के टाटानगर से चली थी।’’

उसने बताया कि ऑक्सीजन एक्सप्रेस के आवागमन के लिए रेलवे ने ‘हरित गलियारा’ बनाया है, यानी इस मार्ग पर चलने वाली ट्रेनों को बीच में कहीं रुकना नहीं पड़ता और न ही किसी अन्य ट्रेन को गुजरने देने के लिए इंतजार करना पड़ता है।

रेलवे ने बताया कि यह ट्रेन छह क्रायोजेनिक कंटेनर लेकर पहुंची और हर कंटेनर में 20 टन एलएमओ थी।

भारतीय रेलवे ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में राज्य सरकारों की मदद करने के लिए देशभर में 224 ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलाई हैं और 884 टैंकरों में करीब 14,500 टन एलएमओ पहुंचाई है।